रेलकर्मियों में बढ़ रहा बीपी, शुगर का रोग

रेलकर्मियों में बढ़ रहा बीपी, शुगर का रोग

इटारसी। कर्मचारियों की कमी के कारण रेल कर्मियों पर पडऩे वाले काम के बोझ के परिणामस्वरूप वे बीमार पड़ रहे हैं। छुट्टियां नहीं मिलना, काम का पड़ता बोझ, अफसरों से लगभग हर रोज होने वाली बहस का परिणाम है कि रेलकर्मी विभिन्न रोगों से ग्रस्त हो रहे हैं। इनमें बड़ी संख्या में ब्लड प्रेशर और मधुमेह के मरीज हैं। आज पश्चिम मध्य रेलवे मजदूर संघ ने संघ कार्यालय में जो स्वास्थ्य परीक्षण शिविर लगाया उसमें लगभग डेढ़ सौ ऐसे थे जो इन दोनों रोगों में या किसी एक से ग्रसित थे। शिविर में इटारसी और भोपाल से आए डाक्टर्स ने रेलवे कर्मचारियों का चिकित्सकीय परीक्षण किया।
कर्मचारी नेता डॉ.आरपी भटनागर के जन्मदिन के मौके पर जोनल संगठक आरके. यादव के नेतृत्व में पश्चिम मध्य रेलवे मजदूर संघ इटारसी की सभी शाखाओं द्वारा संघ कार्यालय परिसर में रेलवे कर्मचारियों और उनके परिवार के सदस्यों के लिए शिविर लगाया गया था। सुबह 10 से दोपहर बजे तक चले शिविर में 837 मरीजों का परीक्षण कर उपचार और परामर्श दिया।

ये उपचार दिया गया
सामान्य जांच-215
दंत संबंधी -69
होम्योपैथिक उपचार-159,
सर्जन-21,
महिला रोग-39,
ईसीजी-64,
ब्लड प्रेशर-80,
शुगर-75,
बीएमआई के 115

इन डाक्टर्स ने दिया उपचार
रेलवे कर्मचारियों को रेलवे की डॉ. मंजुलता तिवारी के साथ डॉ. बनर्जी दंपति, डॉ.अंशुल दीवान, डॉ.शुभम कुलश्रेष्ठ, डॉ.शेखर, डॉ.अभिषेक सोनी द्वारा चेक किया। शिविर का शुभारंभ सीनियर डीईई, टीआरएस संतोष शर्मा एवं केनरा बैंक मैनजर ने मां सरस्वती के चित्र पर पुष्प अर्पित कर किया। इस अवसर पर भूमेश माथुर, सरताज हुसैन, एचएम सिंग, एचएस तिवारी, केएस चौहान, महाकालेश्वर, मनोज कलोसिया, कुंदन आगलावे, प्रकाश यादव, एसके रमजान, केशव कुशवाहा, मो.शकील, देवी प्रसाद, ऑस्टिन जार्ज, अर्जुन उटवार, प्रवक्ता जगदीश जुनानिया सहित सभी शाखाओं के पदाधिकारी मौजूद थे।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
Narmadanchal

FREE
VIEW