रेलवे बोर्ड के सदस्यों दिए स्टेशन को 6 नंबर

एसएस ने पीया नल से जल

एसएस ने पीया नल से जल
इटारसी। रेल मंत्रालय की यात्री सुविधा समिति के सदस्यो नागेश नामजोशी एवं मोहम्मद इरफान अहमद ने आज यहां रेलवे स्टेशन का निरीक्षण किया। उन्होंने व्यवस्थाओं का निरीक्षण के बाद कहा कि यदि नंबर देना हो तो वे यहां दस में से केवल छह नंबर ही देंगे।
समिति के सदस्यों ने इटारसी स्टेशन पर निरीक्षण के दौरान प्लेटफॉर्म 2/3 पर पीने के पानी के नलों के प्रेशर को चेक कर सही कराने व पीने के पानी के वाटर स्टैंड की डिजाइन मैसूर स्टेशन अनुसार करने, खराब टायलेट को नया बनवाने, भुसावल छोर की ओर कवर ओवर शेड बढ़ाने, साफ-सफाई संतोषजनक नहीं पाये जाने पर मैकेनाइज्ड क्लीनिंग के ठेकेदार (मेसर्स एप्कॉन इंडिया) पर अगस्त माह के कुल बिल का 10 फीसदी जुर्माना लगाने के निर्देश दिये।
रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म 4/5 के निरीक्षण के दौरान पुराने बंद पड़े बेसकिचन के पास डम्प कचरे को हटाने, इंजन के फ्यूल फिलिंग पॉइंट की सफाई कराने, टूटे फर्श को तुरन्त ठीक कराने, प्लेटफॉर्म 6/7 के निरीक्षण के दौरान टूटे फर्श को तुरन्त ठीक कराने, टूटे टाइल्स को बदलने, इंजीनियरिंग विभाग को सभी कार्य इस माह के अंत तक ठीक कराने के सख्त निर्देश दिये। प्लेटफॉर्म 6/7 के वाटर कूलरों की सफाई एव ओवर हालिंग की तिथि तथा वाटर वेडिंग मशीनों के पानी को प्रत्येक माह टीडीएस चैक कराने, नये कवर ओवर शेड से टपक रहे पानी को ठीक कराने, सभी टॉयलेटों में एक्जास्ट फेन लगाने के निर्देश दिये। प्लेटफॉर्म 6 के मेसर्स सन साइन केटरिंग स्टॉल को आवंटित जगह से अधिक स्थान का उपयोग करने पर जब से स्टॉल प्रांरभ हुआ है तब से आज तक अधिक स्थान की फीस वसूलने के सख्त निर्देश दिये।
प्लेटफॉर्म 1 पर स्थित एक्सप्रेस फूड सर्विस पर किचन में ठीक सफाई न पाये जाने पर 11000 रुपए का जुर्माना किया, सरकुलेटिंग एरिया में बड़े अक्षरो में प्रवेश एवं निकास के बोर्ड लगाने, सरकुलेटिंग एरिया की बाउंड्रीवाल के पास में बीओटी के तहत पे एंड यूज टॉयलेट बनाने का सुझाव दिया।

एसएस ने पीया नल से जल
रेलवे की पीएसी के मेंबर ने रेलवे स्टेशन के निरीक्षण में काफी गंभीरता और बारीकी दिखाई। उन्होंने प्लेटफार्म पर लगे नलों की टोंटियां खोलकर देखी, नलों के आसपास गंदगी मिलने पर जिम्मेदार अफसरों पर नाराज हुए, उन्होंने स्टेशन प्रबंधक से कहा, नल से पानी पीकर दिखाएं, तो एसएस बघेल ने पानी पीया। वे प्लेटफार्म पर बने शौचालय के भीतर भी गए और वहां उनको काफी गंदगी मिली। इसी तरह से बेस किचन के पास पड़े कचरे और अन्य गंदगी को देखकर नाराजी जतायी और इसे साफ करने के निर्देश दिए। प्लेटफार्म सात पर उन्होंने वहां चल रहे कार्य की गुणवत्ता पर सवाल उठाए, कहीं टूटी टाइल्स थी तो कहीं सीमेंट उखड़ रही थी। आरओ वाटर सिस्टम बंद होने पर अधिकारियों से जवाब तलब किया। वे प्लेटफार्म 3-4 पर पहुंचे और अंतिम छोर तक निरीक्षण किया। प्लेटफार्म एक पर आकर दोनों खानपान रूम देखे और प्रतीक्षालय में यात्रियों से सुविधा संबंधी सवाल किए। हालांकि यात्रियों से उनको कहीं कोई शिकायत सुनने को नहीं मिली। पार्किंग के पास गंदगी देख अफसरों पर फिर नाराज हुए। लिफ्ट और एटीएम की जानकारी ली।
निरीक्षण के दौरान समिति के सदस्यों के साथ मंडल रेल प्रबंधक शोभन चौधुरी, वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक विनोद तमोरी, वरिष्ठ मण्डल सुरक्षा आयुक्त विवेक सागर तथा अन्य वरिष्ठ रेल अधिकारी उपस्थित थे।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
Narmadanchal

FREE
VIEW