रोपण के दस घंटे में पौधे हो गये चोरी, थाने में शिकायत

इटारसी। सुनने में बड़ा अजीब लगेगा। समाज में ऐसे लोग भी हैं जो प्रकृति के दुश्मन हैं और ऐसे लोग भ्रूण हत्या करने वालों से कम नहीं हैं। जी हां, हम ऐसा इसलिए कह रहे हैं कि बंगलिया में पार्षद श्रीमती प्रियंका चौहान के परिवार ने रविवार को दोपहर 2 बजे जिन पांच पौधों को रोपा था, वे पौधे महज 10 घंटे में ही चोरी कर लिये गये हैं। शहर के सामाजिक कार्यकर्ता, अधिवक्ता, शिक्षक और पत्रकारों ने पुलिस थाने पहुंचकर एक ज्ञापन देकर ऐसे निर्लज्ज लोगों पर कार्रवाई की मांग टीआई राघवेन्द्र सिंह चौहान से की है।

पार्षद श्रीमती प्रियंका चौहान और उनके ससुर गंगाराम चौहान के जन्मदिन के मौके पर चौहान परिवार ने बंगलिया में जो पांच पौधे रोपे थे, उन पौधों को दस घंटे के भीतर ही कोई प्रकृति का दुश्मन ट्री गार्ड सहित उखाड़ ले गया। बता दें कि पत्रकार बसंत चौहान की पत्नी और वार्ड की पार्षद श्रीमती प्रियंका चौहान का 5 जुलाई का जन्मदिन का दिन था और 7 जुलाई को बसंत चौहान के पिताश्री गंगाराम चौहान का जन्मदिन भा। परिवार ने जन्मदिन को यादगार बनाने के लिए हमारे बंगलिया इटारसी में डायवर्सन रोड पर स्थित खाली भूखंड पर वृक्षारोपण किया था। घर और मोहल्ले के बच्चे खुश थे कि उन्हें अगले ही साल से बादाम और दसहरी किस्म का आम और थाईवुड किस्म का अमरूद खाने को मिलेगा। बच्चों ने भी वृक्षारोपण बड़े उत्साह से किया था। लेकिन वृक्षारोपण को 12 घंटे भी नहीं बीते थे कि रात 12 बजे के बाद कुछ चोर वृक्षों को ट्री गार्ड सहित चुराकर ले गए।
दरअसल, चोरों की हिम्मत इसलिए बढ़ी हुई है, क्योंकि पुलिस बंगलिया जैसे मोहल्ले में रात में कभी गश्त नहीं करती। कबाड़े वालों की कभी जांच नहीं होती। पेड़ चोरी की इस घटना के बाद प्रकृति प्रेमियों में खासी नाराजी है। सोमवार को नर्मदांचल जल अभियान के सदस्य और सामाजिक कार्यकर्ता मनीष सिंह ठाकुर, अधिवक्ता जयकिशोर चौधरी, प्रायवेट स्कूल एसोशिएशन के आलोक गिरोटिया, पत्रकार रोहित नागे, मंगेश यादव, अजय दुबे, कुशल नवथले, रामबाबू अहिरवार आदि ने टीआई राघवेन्द्र सिंह चौहान को पुलिस थाने जाकर एक ज्ञापन सौंपा और पेड़ चुराने वालों को पकड़कर कार्रवाई की मांग की है। टीआई श्री चौहान ने आश्वस्त किया है कि जल्द ही ऐसे प्रकृति के दुश्मनो को पकड़कर उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
Narmadanchal

FREE
VIEW