लॉक डाउन को मजाक बना रहे हैं लोग, निकल रहे तफरीह करने

लॉक डाउन को मजाक बना रहे हैं लोग, निकल रहे तफरीह करने

कोरोना : धारा 144 के उल्लंघन पर पुलिस ने भांजी लाठियां
इटारसी/होशंगाबाद। लॉकडाउन मजाक बन गया है। मंगलवार को दूसरे दिन भी इटारसी शहर में लोग प्रशासन के आदेश की धज्जी उड़ाते रहे। भीड़ शहर की सभी सड़कों पर देखी जा रही है। सुबह 6 से 9 बजे के बीच मिली छूट के दौरान तो सब्जी बाजार में सुबह पैर रखने की जगह नहीं थी। सुबह 9 बजे के बाद पुलिस और प्रशासन ने सख्ती दिखानी शुरू कर दी थी। लॉकडाउन के आदेश का अनुपालन कराने के लिए पुलिस को जयस्तंभ चौक के आसपास लाठी भांजनी पड़ी।
पुलिस केवल जयस्तंभ चौक के आसपास लाठियां भांजती रही और सूरजगंज चौराह से रेलवे स्टेशन रोड, लाइन क्षेत्र, एमजीएम कालेज से न्यास कालोनी बायपास, सोनासांवरी नाका, मालवीयगंज, नई गरीबी लाइन और पुरानी इटारसी की गलियों में तो युवा पीढ़ी बाइक पर ऐसे फर्र्राटे भरती रही जैसे कोरोना वायरस से उनकी रिश्तेदारी हो और वह उनका नुकसान नहीं कर सकता।

पुलिस की भूमिका पर सवाल
एक वाहन में दो से तीन महिला और पुरुष पुलिस अधिकारी और सिपाही लगातार लोगों से माइक पर घरों में जाने का आग्रह करते रहे और लोग खड़े-खड़े उनको देखकर हंसते रहे। ऐसा लगा मानो, इनको केवल अनाउंस करने का ही काम मिला हो, किसी ने भी वाहन से नीचे उतरकर सड़क किनारे खड़े लोगों को डांटकर भीतर नहीं भेजा। कुछ जो पुलिस के नाम से ही डरते हैं, वे जरूरी भीतर गये। लेकिन, वाहन जाने के बाद वे भी बाहर आ गये। सवाल यह है कि क्या पुलिस केवल ऐसे ही अनाउंस करके जाते रहेगी या वास्तविक सख्ती भी दिखायेगी? केवल ड्यूटी की औपचारिकता पूरी करनी है तो यह काफी चिंताजनक है, क्योंकि यह ढील शहर को खतरे में डालने के लिए काफी है।

युवाओं में नहीं है कोई खौफ
कोराना वायरस से बचाव के लिए सरकार ने 31 मार्च तक लॉकडाउन घोषित किया है। सोमवार को पहले दिन इसका पालन नहीं हुआ। आम लोगों ने हड़बड़ाहट में खरीदारी की और युवाओं ने कफ्र्यू पर्यटन का आनंद उठाया। मंगलवार को प्रशासन सामने आया। निषेधाज्ञा लागू कर दी। लोगों से घरों में रहने की अपील की गई। आदेश उल्लंघन करने पर कार्रवाई की चेतावनी दी गई। फिर भी असर देखने नहीं मिला। एसडीएम हरेन्द्र नारायण, तहसीलदार तृप्ति पटेरिया, नायब तहसीलदार रितु भार्गव और विनय प्रकाश ठाकुर जयस्तंभ चौक पहुंचे। पुलिस नेे बाजार में आये युवाओं पर लाठियां चलायी, कुछ फर्क पड़ा। लेकिन, यह कुछ देर का दृश्य था। स्थिति उनके जाते ही पुन: वैसे ही हो गयी।


निवेदन के बाद शुरु हुआ दे दनादन
लोगों को अपने घरों के भीतर रहने का निवेदन कर रहा प्रशासन, लोगों की हठधर्मिता से अब दनादन पर उतर आया। जयस्तंभ और उसके आसपास पुलिस कर्मियों ने बाजार पहुंचने वालों पर लाठियां भांजी। दरअसल, कोरोना के फैलाव की गंभीरता नहीं समझकर कई युवा बंद बाजार में माहौल देखने पहुंच रहे हैं। प्रशासन लगातार निवेदन कर रहा है। मोहल्लों में निवेदन किया जा रहा है। बावजूद इसके लोग मान नहीं रहे हैं तो फिर आखिरकार प्रशासन को लठतंत्र अपनाना पड़ा है। मंगलवार को एसडीएम के नेतृत्व में प्रशासन हाथ में लाठी लेकर निकल पड़ा। तहसीलदार तृप्ति पटेरिया और रितु भार्गव भी हाथों में लाठी लेकर निकल पड़ी, मनमानी करने वालों की पीठ पर लाठियां चमकायी गयी।


अस्पताल में कंट्रोल रूम स्थापित, हुआ प्रशिक्षण
कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी धनंजय सिंह के निर्देशानुसार कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम एवं नियंत्रण के दृष्टिगत जिला अस्पताल में स्थित कंट्रोल रूम में नियुक्त कर्मचारियों का प्रशिक्षण आयोजित किया गया। कंट्रोल रूम प्रभारी डॉ जेपीएन चतुर्वेदी ने आज मंगलवार को कंट्रोल रूम में कर्मचारियों को प्रशिक्षण दिया। उन्होने शासन द्वारा जारी एडवाइजरी के संबंध में विस्तार से जानकारी दी। इस दौरान डिप्टी कलेक्टर सतीश राय उपस्थित रहे। कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम एवं नियंत्रण के दृष्टिगत जिला अस्पताल में कंट्रोल रूम स्थापित किया गया। कंट्रोल रूम के माध्यम से आम जनों को कोरोना वायरस से संबंधित जानकारियो का आदान प्रदान किया जाएगा एवं शासन द्वारा जारी निर्देशों से अवगत कराया जाएगा। कंट्रोल रूम का नंबर 07574 – 254446, कंट्रोल रूम सातों दिन 24 घंटे सक्रिय रहेगा।

भीलटदेव मेला स्थगित किया
कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी होशंगाबाद ने सभी प्रकार के सामूहिक आयोजनों पर जिले में प्रतिबंध लगाया है। अनुविभागीय अधिकारी राजस्व सिवनी मालवा के आदेश अनुसार प्रतिवर्ष विकासखंड के भीलटदेव स्थल पर लगने वाला भीलटदेव मेला नोबल कोरोना वायरस के चलते आगामी आदेश तक स्थगित किया गया है। सिवनी मालवा जनपद पंचायत द्वारा प्रतिवर्ष यह मेला आयोजित किया जाता है। जनपद पंचायत सिवनी मालवा के सीईओ दुर्गेश कुमार भुमरकर ने बताया है कि भीलटदेव मेले को अब आगामी आदेश तक स्थगित कर दिया गया है।


आरएसएस का चिकित्सक दल देगा परामर्श
कोरोना वायरस के संकट से निबटने राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ भी सामने आया है। संघ दिन के हर प्रहर में देशहित के कार्यों में हमेशा ही अग्रणी रहता है। इसी लिए कोरोना के इस चक्रव्यूह से बचने हेतु संघ ने इटारसी के डॉक्टरों की टीम गठित की है। यह टीम आपको आपके स्वास्थ्य संबंधित प्राथमिक जानकारी एवं परामर्श फ़ोन पर निर्धारित वक्त के अनुसार देंगे। टीम में शामिल डॉ पीएन पहाडिय़ा शाम 06-07 बजे तक मोबाइल नंबर 9425043055 पर, डॉ रविन्द्र गुप्ता दोपहर 01-02 बजे तक 9630730877, डॉ अनिल सिंह सुबह 10 से दोपहर 12 बजे तक 8319939474 और डॉ नीरज जैन मोबाइल नंबर 9425367043 पर चौबीस घंटे उपलब्ध रहेंगे। आरएसएस ने आमजन से इसका लाभ लेने के अनुरोध के साथ ही कहा है कि चीन के वुहान से शुरू हुआ कोरोना वायरस को विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्लूएचओ) ने महामारी घोषित किया है। दुनिया भर की सरकारें कोरोना वायरस को लेकर लोगों को जागरूक करने पर ध्यान दे रही हैं। आप भी जागरूक बनें और लोगों को जागरूक करें। सरकार के निर्देशों का सख्ती से पालन करें, घर से निकलने से बचें, बाहर से आने पर अच्छी तरह से साबुन से हाथ जरूर धोएं।


बाहरी व्यक्ति का प्रवेश प्रतिबंधित
होशंगाबाद जनपद पंचायत अंतर्गत ग्राम पर्रादेह में ग्रामीणों ने गांव में बाहरी व्यक्ति के प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया है। गांव में इस आशय के पोस्टर चस्पा किये हैं। ग्राम पंचायत पर्रादेह में अपरिचित लोगों, फेरी लगाकर अपना सामान बेचने आने वालों को तो गांव में प्रवेश के लिए प्रतिबंधित किया है, साथ ही ग्रामीणों ने अपने रिश्तेदारों को भी सख्त मनाही कर दी है कि वे अपने घरों में ही रहें, गांव न आयें। इसके साथ ही निवृतमान सरपंच कन्हैया लाल वर्मा के साथ युवाओं की टीम सोशल मीडिया के माध्यम से लोगों को कोरोना से सावधानी के लिए जागरुक और सतर्क रहने के लिए प्रेरित कर रही है।

जानकारी न छिपाएं विदेश से आने वाले
कोरोना वायरस के संक्रमण के रोकथाम एवं नियंत्रण के लिए नर्मदापुरम् संभाग कमिश्नर रजनीश श्रीवास्तव ने निर्देशित किया है कि संभाग के तीनों जिलों में ऐसे लोग जो पिछले दिनों विदेशों से आए हैं और उन्होंने अपनी यात्रा संबंधी जानकारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी एवं अन्य अधिकारियों को नहीं दी है, ऐसे व्यक्तियों के विरूद्ध धारा 144 के उल्लंघन पर दण्ड संहिता की धारा 188 के तहत कार्यवाही की जाएगी। कमिश्नर श्री श्रीवास्तव ने आमजनों से अपील की है कि ऐसे व्यक्ति जिन्होने पिछले दिनों विदेश यात्रा की है, वे अपनी जानकारी शीघ्र संबंधित क्षेत्र के सीएमएचओ को अनिवार्य रूप से दें। अन्य किसी माध्यम से सूचना प्राप्त होने पर कार्यवाही की जाएगी। उल्लेखनीय है कि ऐसे व्यक्ति जिन्होंने पिछले दिनों विदेश यात्रा की है व अपनी जानकारी सीएमएचओ या अन्य अधिकारियों को नहीं दी है उनके विरूद्ध वैधानिक कार्यवाही की जा रही है।


अपने घर पर पढ़ें पांच वक्त की नमाज
शहर काजी ने सभी मुस्लिम धर्मावलंबियों से कहा है कि नोबल कोरोना वायरस को देखते हुए 31 मार्च, मंगलवार तक हर दिन की पांच नमाजें और जुमे की नमाज भी अपने घरों में ही अता करें जिससे मुस्लिम कौम भी समाज में जागरुक होने की मिसाल पेश कर सके। शहर काजी हाजी अशरफ अली ने कहा है कि नोबल कोरोना वायरस पूरी दुनिया में महामारी बनकर फैल चुका है और अपने मुल्क में भी दस्तक देकर पांव फैलाने की कोशिशें कर रहा है। इस बीमारी को फैलने से रोकने के लिए भीड़भाड़ से बचाव जरूरी है। इसके लिए जिला प्रशासन अपने स्तर पर हर संभव कोशिश कर रहा है, इसकी को मद्देनजर रखते हुए हमें भी इसे रोकने में अपना योगदान देना चाहिए।

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: