वन विभाग ने गांवों से शुरू की महुआ की खरीदी

वन विभाग ने गांवों से शुरू की महुआ की खरीदी

होशंगाबाद। – 04 हजार क्विंटल खरीदी का लक्ष्य है वन विभाग का
– 10 प्राथमिक लघु वनोपज समितियों में 20 संग्रह केन्द्र
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की मंशानुसार वन विभाग ने शासकीय दर 35रुपए प्रति किलो के हिसाब से वनोपज महुआ खरीदी प्रारंभ कर दी है।
गौरतलब रहे कि विगत वर्ष महुआ की शासकीय दर 30 रुपए के करीब थी। लेकिन इस बार प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जंगलों में रहकर वनोपज के सहारे अपना जीवन-बसर करने वाले आदिवासी ग्रामीणों को मेहनत का भरपूर लाभ मिले इसके लिए उन्होंने महुआ खरीदी की दर 30 रुपए से बढ़ाकर 35 रंपए प्रति किलो कर दी है। इसी तारतम्य में आज सामान्य वनमडंल होशंगाबाद ने मुख्यमंत्री की मंशा के अनुरूप महुआ खरीदी प्रारंभ कर दी है। सामान्य वनमडंल के डीएफओ अजय कुमार पांडे ने बताया कि सामान्य वनमडंल के सुखतवा, इटारसी सहित एक दर्जन से ज्यादा खरीदी केन्द्र पर वनकर्मियों द्वारा इन महुआ संग्रहणकर्ताओ से खरीदी की जा रही है। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए मास्क लगाकर संग्रहण कर्ता महुआ खरीदी केन्द्र तक जा रहे हैं और अपनी वनोपज को लघु वनोपज सहकारी समिति के संग्रहण केन्द्र को बेच रहे हैं। सबसे बड़ी बात तो यह है कि वन विभाग इन संग्रहणकर्ताओं को केन्द्र से ही उनकी वनोपज का नगद भुगतान किया जा रहा है। डीएफओ श्री पांडे ने बताया कि वन विभाग का लक्ष्य 4 हजार क्विंटल महुआ खरीदी का है। वन विभाग ऐसे दूरस्थ पहुंच विहीन गावों मे खरीदी कर रहा है, जहां क्रेता नहीं पहुंच सकता क्योंकि लॉकडाउन की स्थिति में जंगल के दूरस्थ स्थानों पर किसी भी वाहन व आवाजाही पर प्रतिबंध है। ऐसे पहुंचविहीन गांवों से वन विभाग ने महुआ खरीदी शुरू की है। बताया जा रहा है कि वन विभाग से पंजीकृत व्यापारी ही महुआ संग्रहणकर्ताओं से शासकीय दर 35 रुपए प्रति किलो पर ही खरीदी कर सकता है। वन विभाग ने 10 प्राथमिक लघु वनोपज समीतियों में बनाये गये 20 संग्रहण केन्द्रों पर खरीदी शुरू की है। इटारसी, सुखतवा, रेंज के अधीनस्थ कुछ खरीदी केन्द्रों पिपरिया खुर्द, जमानी सहित एक दर्जन से अधिक केन्द्रों पर महुआ खरीदी वन विभाग द्वारा की जा रही है।

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: