वर्तमान पीढ़ी नेहरु को पढ़े : जायसवाल

इटारसी। उच्च शिक्षा विभाग मप्र शासन भोपाल के निर्देशानुसार महाविद्यालय में व्यक्तित्व विकास प्रकोष्ठ के माध्यम से भारत के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू की 130 वीं वर्षगांठ मनायी। महाविद्यालय प्राचार्य डॉ. कुमकुम जैन, व्यक्तित्व विकास प्रकोष्ठ संयोजक डॉ. आरएस मेहरा, मुख्य अतिथि डॉ. केएस उप्पल, विशेष अतिथि जनभागीदारी अध्यक्ष मयूर जायसवाल, पूर्व जनभागीदारी अध्यक्ष माधवी मिश्रा एवं पूर्व नगरपालिका अध्ययक्ष नीलम गांधी ने पं. जवाहर नेहरू चित्र पर माल्यार्पण कर शुभारंभ किया।
प्राचार्य डॉ. कुमकुम जैन ने स्वागत भाषण में कहा कि पं. नेहरू आधुनिक भारत के निर्माता रहे हंै। उनके अर्थक प्रयास का ही परिणाम है कि आज भारत दुनिया कि छटवीं अर्थव्यवस्था के रूप में जाना जाता है। प्राध्यापक डॉ. आरएस मेहरा ने कहा कि पं.नेहरू को प्यार से बच्चे चाचा नेहरू कहते थे। उन्होंने राष्ट्रीय आंदोलन में उनकी भूमिका एवं प्रथम प्रधानमंत्री और विदेश मंत्री के रूप में उनके कार्यों को विस्तार से बताया। जनभागीदारी अध्यक्ष मयूर जायसवाल ने कहा कि राष्ट्रीय आंदोलन में नेहरू के योगदान और प्रधानमंत्री के रूप में किये कार्यों को वर्तमान पीढ़ी को अध्ययन की आवश्यूकता है, तभी वे पंडित नेहरू के व्यक्तित्व से प्रेरित हो सकेंगे। मुख्य अतिथि डॉ. केएस उप्पल ने बताया पे. नेहरू जो कुछ बने वे अपनी शिक्षा से बने। उनका व्यक्तित्व अध्ययनशील एवं कर्म प्रधान रहा। माधवी मिश्रा एवं नीलम गांधी ने भी पंडित नेहरू के व्यक्तित्व पर प्रकाश डाला। डॉ. संजय आर्य ने कहा कि यह दिवस बच्चों के कल्याण के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए मनाया जाता है। संचालन डा. संजय आर्य एवं आभार डॉ. श्रीराम निवारिया ने किया।

CATEGORIES
TAGS
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: