वर्षों पुराने पेड़ बचाने दिया ज्ञापन

इटारसी। शहर में पुलिस थाने के पीछे और शासकीय एमजीएम कालेज के पास पुलिस हाउसिंग द्वारा बनायी जा रही कालोनी के निर्माण से वहां वर्षों से खड़े वृक्षों को कोई नुकसान न हो, इस हेतु परिवर्तन संस्था आगे आयी है। परिवर्तन के सदस्यों ने आज एसडीएम आरएस बघेल को एक ज्ञापन देकर मांग की है कि निर्माण के वक्त इस बात का ध्यान रखा जाए कि वर्षों पुराने वृक्षों को कोई नुकसान न हो।
कलेक्टर के नाम एसडीएम को दिए ज्ञापन में संस्था के सदस्यों ने कहा कि उन दोनों स्थानों पर जहां कालोनी का निर्माण कार्य चल रहा है, 80-90 वृक्ष हैं जो वर्षों पुराने हैं। सरकार पर्यावरण सुधार के लिए अधिक से अधिक पेड़ लगाने का अभियान चला रही है, ऐसे में यह जरूरी हो जाता है कि जो पेड़ वर्षों से खड़े हैं, उनको भी बचाया जाए। संस्था की मांग है कि वर्षों की मेहनत से वहां पेड़ आज विशालकाय रूप ले चुके हैं, कालोनी निर्माण के दौरान उन पेड़ों को काटा न जाए, बल्कि नक्शा ऐसा हो कि पेड़ भी बच जाएं और कालोनी का निर्माण भी हो जाए। एसडीएम श्री बघेल ने आश्वस्त किया है कि वहां मौजूद वृक्षों का नुकसान नहीं होने दिया जाएगा।
परिवर्तन के अनुराग दीवान ने कहा कि परिवर्तन संस्था विगत डेढ़ दशक से पर्यावरण सुधार की दिशा में काम कर रही है। संस्था ने शहर में कई पौधे रोपे हैं जो आज वृक्ष बन गए हैं। कुछ ऐसे पेड़ जो आंधी-तूफान में जमींदोज हो गए थे, उनको संस्था के प्रयासों से पुनर्जीवन मिला है। ऐसे में एक साथ इतने पेड़ों पर संकट न आए, संस्था ने इसके लिए ही आज एसडीएम के माध्यम से कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा है।
इस अवसर पर परिवर्तन के अखिल दुबे, चंद्रेश मालवीय, अनिल शुक्ला, प्रशांत दुबे, भागीरथ प्रसाद चौधरी, नेपाल चक्रवर्ती, मोहनलाल यादव, सतीश सैनी, राजेश यादव, दीपेश चौरे, कमलेश मनवारे, सुधीर बाजपेयी, पंकज गुप्ता, रोहित नागे, मनोज तिवारी, मनोज राय, बसंत मालवीय सहित अन्य सदस्य भी मौजूद थे।

CATEGORIES
TAGS
Share This
error: Content is protected !!