विद्यार्थियों ने दिया 4 घंटे धरना

प्रमोद गुप्ता, सारणी पाथाखेड़ा से

प्रमोद गुप्ता, सारणी पाथाखेड़ा से
प्रिंसिपल की स्थांतरण को रोकने की मांग

सारणी। पुनर्वास केंद्र चोपना के शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय के लगभग 700 विद्यार्थियों ने आज स्कूल के सामने धरना देकर स्कूल के प्राचार्य एसपी सिंह का स्थानांतरण निरस्त किए जाने की मांग की है। स्कूल के विद्यार्थियों ने बताया कि द्वेष और दलगत भावनाओं के तहत स्कूल के प्राचार्य एसपी सिंह का स्थांतरण क्षेत्र से बाहर किया गया है।जबकि जब से प्रिंसिपल की स्थापना शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय चोपना में हुई है। तब से अनुशासन के साथ पढ़ाई का स्तर भी बड़ा है। ऐसी परिस्थिति में प्राचार्य का स्थांतरण क्षेत्र से बाहर किया जाता है, तो इसको लेकर विद्यार्थी अनशन करेंगे। कक्षा बारहवीं के विद्यार्थी रमन विश्वास ने बताया कि सिंह सर के आने के बाद से स्कूल में अनुशासन और पढ़ाई का स्तर बढ़ा है। लेकिन अचानक उनका स्थांतरण क्षेत्र से बाहर किया जाने से विद्यार्थियों में ब्लड एवं जिला शिक्षा अधिकारी के प्रति आक्रोश का माहौल बना हुआ है।

कक्षा नहीं लगी धरने पर बैठे रहे विद्यार्थी
स्कूल लगने का समय सुबह 11 बजे से 5 बजे तक का है। लेकिन जैसे ही विद्यार्थियों को पता चला कि प्रिंसिपल का स्थांतरण शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय चोपना से शासकीय उच्चतर माध्यमिक भौरा \हो गया है तो विद्यार्थी 12 बजे से लेकर दोपहर 3 बजे तक धरने पर बैठे रहे। आश्चर्य की बात यह है कि धरने पर बैठे रहने के बाद भी ब्लॉक स्तर के कोई भी अधिकारियों ने मौके पर जाना उचित नहीं समझा। इसकी वजह से विद्यार्थियों में ब्लॉक एवं जिला शिक्षा अधिकारी के प्रति आक्रोश का माहौल बना हुआ है । विद्यार्थियों के मान्यता यदि स्थानांतरण निरस्त नहीं होता है तो उस विद्यार्थी भूख हड़ताल के अलावा और प्रदर्शन भी करेंगे।

इनका कहना है…!
चोपना के प्रिंसिपल का स्थांतरण शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय भंवरा में हुआ है विद्यार्थियों के माध्यम से धरने पर बैठने की जानकारी है। यह जानकारी को जिला शिक्षा अधिकारी और कलेक्टर को बताने का कार्य किया गया है ।
आर जी गाजरे ब्लॉक शिक्षा अधिकारी घोड़ाडोंगरी

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
Narmadanchal

FREE
VIEW