विद्यार्थी जीवन में आगे बढ़ने, खरपतवार से बचना है : एसपी

जिला पत्रकार संघ ने किया प्रतिभाओं का सम्मान 
इटारसी। यह हमारे और हमारे जिले के लिए गौरव की बात है कि यहां इतने प्रतिभावान बच्चे हैं। बच्चों समाज में हर प्रकार के लोग मिलेंगे, लेकिन हमें अच्छे लोगों के साथ रहना है और उन्हीं से शिक्षा लेना है। जैसे फसल के बीच में ऊगी खरपतवार फसल को खराब कर देती है। ऐसे ही समाज में भी कुछ खरपतवार है, जिनके साथ रहने से आप जैसी अच्छी फसल भी खराब हो जाएगी। उक्त उद्गार जिला पुलिस अधीक्षक एमएल छारी ने जिला पत्रकार संघ द्वारा आयोजित प्रतिभा सम्मान समारोह में व्यक्त किए।
कार्यक्रम प्रेमशंकर दुबे स्मृति पत्रकार भवन में किया था। कार्यक्रम में प्रदेश की मैरिट लिस्ट में टॉप टेन आने वाली सरस्वती स्कूल की निहारिका मलैया, जिले की मैरिट सूची में स्थान बनाने वाली पथरोटा हा.से. स्कूल शुभांगी अहिरवार और सुखतवा कन्या स्कूल की छात्रा रेश्मा परवीन सहित 135 विद्यार्थियों को स्मृति चिन्ह एवं सम्मान पत्र देकर सम्मानित किया गया। यह पहला अवसर है जब अतिथि के रूप में उपस्थित एसपी, एसडीओपी, टीआई व दोनों प्राचार्यों ने बच्चों से भाषण देने की बजाए एक पालक के रूप में बातचीत की, समझाईश दी और बच्चों से उनकी समस्याएं भी पूछी।जिला पत्रकार संघ के अध्यक्ष प्रमोद पगारे ने कहा कि संघ द्वारा पत्रकारों के आयोजन के साथ ही सामाजिक गतिविधियां भी संचालित करता है। इसी क्रम में शहर की प्रतिभाओं को सम्मान किया जा रहा है। श्री पगारे ने बच्चों से कहा कि अगर आप किसी बड़े कोचिंग संस्थान में पढऩा चाहते हैं, पढऩे के लिए बैंक से लोन लेना चाह रहे हैं या पढ़ाई में कापी, किताब से लेकर कोई भी परेशानी होती है तो आप हमसे संपर्क कर सकते हैं।
एसडीओपी उमेश द्विवेदी ने कहा कि हमें अपनी सुरक्षा के प्रति सजग रहने के साथ ही अपने पड़ोसियों की सुरक्षा का भी ध्यान रखना होगा। अगर हम पड़ोसी का ध्यान रखेंगे तो यह एक चेन बन जाएगी और चोरी व अन्य अपराध कम हो जाएंगे। उन्होंने बच्चों से कहा कि आपके साथ कोई भी व्यक्ति छेड़छाड़ करता है, कमेन्टस करता है, पीछा करता है तो आप डरे नहीं। आप 100 डायल पर या हमें फोन करें। पुलिस तुरंत आपकी सुरक्षा के लिए पहुंचेगी।
टीआई आरएस चौहान ने कहा कि आज आपके बीच आकर मुझे अपने बचपन के दिन याद आ गए हैं। उन्होंने कहा कि उस समय 11 वी बोर्ड होती थी, कक्षा में हम 29 विद्यार्थी थे, इनमें से 26 का चयन डाक्टर के लिए हो गया। हमने यह सोचा कि हमारे प्रयासों में ही कहीं कमी है। हमने प्रयास किया और पुलिस की नौकरी में आ गए। हमारा एक साथी देश की राजनीति में पहुंचा और 12 साल तक प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे। मेरे कहने का मतलब यह है कि कभी किसी प्रतियोगी परीक्षा में शामिल होने के बाद निराश नहीं होना। जिला पत्रकार संघ के सचिव व प्रायवेट स्कूल एसोसएिशन के जिलाध्यक्ष शिव भारद्वाज ने कहा कि शहर और ग्रामीण क्षेत्रों के इतने सारे प्रतिभावान बच्चों को सम्मानित करते हुए हमें खुशी है कि हमारी अगली पीढ़ी सही दिशा में जा रही है।
नगरपालिका उपाध्यक्ष अरूण चौधरी ने कहा कि यह हमारे लिए सौभाग्य की बात है कि शहर में इतने प्रतिभाशाली बच्चे हैं। सुखतवा कन्या हाई स्कूल के प्राचार्य डा. रविन्द्र अभयंकर ने आईआईटी, नीट, सहित अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के बारे में जानकारी दी। शाहासे स्कूल पथरोटा के प्राचार्य बीके लवानिया ने बच्चों को पढ़ाई कैसे करना है, कैसे आगे बढऩा है, हायर सेकेंडरी के बाद कैसे आगे बढ़े और क्या करें, प्रतियोगी परीक्षाओं के चयन आदि पर विस्तार से जानकारी दी। कार्यक्रम का संचालन विनय मालवीय ने एवं आभार प्रदर्शन कोषाध्यक्ष राजेश दुबे ने किया। इस अवसर पर पत्रकार संघ के पदाधिकारी विनीत चौकसे, अजय दुबे, गिरीश पटेल, दिलीप शर्मा, राजेन्द्र मालवीय, इंद्रपाल सिंह, मंगेश यादव, संजय शिल्पी, पुनीत मालवीय, सौरभ दुबे, सुरेन्द्र राजपूत सहित बड़ी संख्या में स्कली बच्चे, पालक और गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
Narmadanchal

FREE
VIEW