विद्युत मेंटेनेंस के नाम पर वृक्षों की कटाई छंटाई में लीपापोती

मोहल्ला समिति को हादसे की आशंका
इटारसी। मध्य प्रदेश विद्युत मंडल का दल ने वर्षा ऋतु के पूर्व विद्युत तारों की सुरक्षा के लिए 21 जून को गांधीनगर में वृक्षों की छंटाई के लिए विद्युत मेंटेनेंस के नाम पर प्रात: 8 से 12 बजे तक विद्युत कटौती की थी। इस दौरान कुछ वृक्षों की कटाई छंटाई की लेकिन जिन वृक्षों से हादसा हो सकता है उनको छोड़ दिया जिससे लोगों में आक्रोश है। इसके विरोध में मोहल्ला समिति के सदस्यों ने विद्युत मंडल कार्यालय में पहुंचकर इन हादसा देने वाले वृक्षों की छंटाई की गुहार लगाई।
गांधीनगर की मोहल्ला समिति ने बिजली विभाग पर मेंटेनेंस के नाम पर वृक्षों की छंटाई में लीपापोती का आरोप लगाते हुए विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों के समक्ष आपत्ति दर्ज करायी है। समिति के सदस्य राजेंद्र चतुर्वेदी ने बतलाया की 21 जून को जो विद्युत अमला पेड़ों की छंटाई करने आया था उसको उन्होंने हादसे देने वाले पेड़ों की जानकारी देकर कटाई छंटाई करने की बात कही थी। राकेश जाधव ने भी स्थिति की गंभीरता को देखते हुए विद्युत अमले को गुरु नानक दाल मिल गोदाम से भाट मोहल्ले को जाने वाले मार्ग के 2 वृक्षों की कटाई छंटाई को कहा था लेकिन अमले ने अनसुनी कर दी, जिससे समिति सदस्यों में आक्रोश है। संयोजक राजकुमार दुबे ने बताया की प्रबंधक डेलन पटेल को भी मोबाइल पर सूचना दी गई उन्होंने तत्काल कार्रवाई कराने की बात कही थी, लेकिन स्थिति यथावत रही।
दुबे का कहना है कि मोहल्ला समिति फरवरी से विद्युत विभाग से गुहार लगा रही है कि इन वृक्षों की कटाई छंटाई की जाए लेकिन विधुत मंडल अनसुनी कर हादसे होने का इंतजार कर रहा है। 1 सप्ताह में इन वृक्षों की कटाई छंटाई नहीं हुई तो विद्युत मंडल का घेराव करेंगे। ज्ञापन सौंपते समय जीपी दीक्षित, राजकुमार दुबे, राकेश जाधव, राजेंद्र चतुर्वेदी, सुनील दुबे, विजय दुबे, चरणजीत सिंह छाबड़ा, हैप्पी शर्मा, राहुल भट्ट, अशोक भाट, मुकेश दुबे, अनूप तिवारी आदि उपस्थित रहे।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
Narmadanchal

FREE
VIEW