विश्व शांति में स्काउट-गाइड का योगदान पर परिचर्चा

विश्व शांति में स्काउट-गाइड का योगदान पर परिचर्चा

इटारसी। पश्चिम मध्य रेलवे सीनियर सेकेंड्री स्कूल नयायार्ड में आज विश्व शांति स्थापना में स्काउट गाइड का योगदान विषय पर एक परिचर्चा का आयोजन किया गया। इस विषय पर स्कूल के रोवर्स, रेंजर्स तथा स्काउट-गाइड ने महत्वपूर्ण विचार प्रस्तुत किए। सभी प्रतियोगी छात्र-छात्राओ ने इस विषय का गहराई से विश्लेषण किया।
रोवर सेक्शन में प्रथम फैजान खान, द्वितीय कन्हैया धुर्वे, रेंजर सेक्शन में प्रथम दीक्षिा उमरिया, द्वितीय इशिता तिवारी एवं स्काउट सेक्शन में प्रथम यश दीवान, द्वितीय दुर्गेश बारिबा, गाइड सेक्शन में प्रथम सीमा लौवंशी तथा द्वितीय सलोनी बिल्लौरे रहे। इस अवसर पर स्काउट-गाइड प्रभारी डॉ. लोकेश सोनी ने कहा कि स्काउट-गाइड कार्यक्रमों से सभ्य नागरिक तैयार होते हैं और सभ्य नागरिकों से ही विश्व में शांति की स्थापना होती है। स्काउट-गाइड के प्रणेता बेडन पावेल के 9 नियमों से विद्यार्थियों में अनुशासित नागरिक बनने में सहायता मिलती है। रोवर स्काउट लीडर सुरेश कुमार कोरड़े ने कहा कि स्काउट-गाइड की स्थापना का उद्देश्य ही विश्व में शंति, सद्भाव एवं सेवा है। रोवर स्काउट प्रभारी गंगाराम शर्मा ने बताया कि घर और समाज में स्काउट किस तरह से शांति की स्थापना की पहल कर सकता है। संचालन अनुराधा दुबे एवं दीक्षा चौरे ने एवं आभार प्रदर्शन उषा किरण गुप्ता ने किया।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
Narmadanchal

FREE
VIEW