शराब दुकान खुली, तो आग लगा देंगी महिलाएं

शराब दुकान खुली, तो आग लगा देंगी महिलाएं

अपडेट न्यूज
शराब दुकान का विरोध करने पहुंची महिलाएं

इटारसी। बंगलिया के डायवर्सन पर मौजूद लक्ष्य नशा मुक्ति केंद्र के पास शराब दुकान खोले जाने की तैयारी को देखते हुए यहां के एक सैकड़ा महिला और पुरुर्षों ने एसडीएम कार्यालय जाकर आबकारी विभाग के विरुद्ध जमकर नारेबाजी और एसडीएम अभिषेक गेहलोत को कलेक्टर के नाम ज्ञापन सौंपा। महिलाओं ने एसडीएम से कहा कि यहां 300 से अधिक परिवार रहते हैं, ऐसे में यहां शराब दुकान जिसका आवंटन सनखेड़ा नाका-घाटली रोड के लिए है, लगाई जा रही है। जिसका काम भी शुरु हो गया है। महिलाओं का नेतृत्व कर रही पार्षद प्रियंका चौहान ने एसडीएम से महिलाओं ने कहा कि कुछ दबंग लोग आबकारी विभाग से मिलकर ये काम कर रहे हैं, इसे खुलने से पहले रोका जाए। पार्षद श्रीमती चौहान ने कहा कि यदि शराब की दुकान खुलती है तो वे महिलाओं के साथ मिलकर उसमें तोडफ़ोड़ करेंगी और आग लगा देंगी। जिसकी जिम्मेदारी भी सामूहिक रूप से लेंगी।
वार्ड की निवासी महिला ममता मालवीय का कहना था कि क्षेत्र की शांति भंग करने की कोशिश किसी को नहीं करने देंगे। जरूरत पड़ी तो आंदोलन उग्र होगा। महिला जागृति मंच की पुष्पा ठाकुर ने एसडीएम से कहा कि होशंगाबाद में शराब बंदी कर दी, क्या इटारसी में इंसान नहीं रहते। यहां नर्मदा नदी नहीं तो क्या ये पवित्र क्षेत्र नहीं। हमारा मोहल्ला ही हमारे लिए स्वर्ग है। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के निर्देश से 30-35 वर्षों से मौजूद शराब की दुकान जबलपुर गेट से हटी है, अब उसी मोहल्ले में दूसरी शराब दुकान नहीं खुलने दी जाएगी। उन्होंने कहा कि हमनें एक पीढ़ी को शराब के कारण बर्बाद होते देखा है।
ज्ञापन सौंपने वालों में अशोक बौरासी, अमर सिंह चंदेल, संजय शर्मा, मनोज प्रजापति, शशांक मालवीय, विशाल जायसवाल, छोटू गोस्वामी, आनंद सराठे, महादेव कैथवास, बाबूलाल कैथवास, बदामी लाल कहार, स्र्बीना बी, फिरोजा बी, अली अहमद अंसारी, रेहाना बी, अफराजा बानो व अन्य थे।
विस अध्यक्ष ने दिया आश्वासन, नहीं खुलने देंगे दुकान
एसडीएम को ज्ञापन सौंपने के पहले वार्ड 08, 06 की पार्षद प्रियंका चौहान के साथ एक प्रतिनिधि मंडल विधानसभा अध्यक्ष डॉ सीतासरन शर्मा से भी मिला था। यहां विस अध्यक्ष को बताया गया कि शराब दुकान मनमाने तरीके से खोली जा रही है, इस पर विस अध्यक्ष डॉ शर्मा ने कहा कि शराब दुकान वहां नहीं खुलेगी जहां नशा मुक्ति के लिए काम होता है।
इनका कहना है…!
महिलाओं ने ज्ञापन देकर कहा उनके क्षेत्र में शराब दुकान खुल रही है। कलेक्टर महोदय के नाम ज्ञापन सौंपा है, हम उन तक ज्ञापन पहुंचा देंगे। इसके अलावा आबकारी विभाग से जानकारी लेंगे कि उन्होंने दुकान का आवंटन कहां किया है। हमारा दल भेजकर भी जांच कराएंगे।
अभिषेक गहलोत, एसडीएम, इटारसी
देशी शराब की दुकान जिसकी महिलाएं बात कर रही हैं उसके लिए सनखेड़ा नाका-घाटली वाला क्षेत्र दिया है, बंगलिया डायवर्सन रोड पर दुकान नहीं खुल सकती। वैसे भी हमने उन्हें लायसेंस नहीं दिया है अभी। वहां आगे भी दुकान नहीं खुलेगी।
जगदीश प्रसाद दुबे, आबकारी उपनिरीक्षक

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
Narmadanchal

FREE
VIEW