शहर के कला और साहित्य जगत को मिली बड़ी सौगात

कविवर भवानी प्रसाद मिश्र संस्कृति भवन का लोकार्पण
इटारसी। गांधी स्टेडियम के पास बना कविवर भवानीप्रसाद मिश्र संस्कृति भवन आज शहर को समर्पित हो गया। मप्र के विधानसभा अध्यक्ष डॉ.सीतासरन शर्मा और प्रदेश के संस्कृति एवं पर्यटन मंत्री सुरेन्द्र पटवा ने, नगर पालिका परिषद की अध्यक्ष श्रीमती सुधा अग्रवाल, पूर्व विधायक हरिशंकर जैसवाल, मप्र खेल अकादमी के सदस्य पीयूष शर्मा, उपाध्यक्ष नपा अरुण चौधरी, की मौजूदगी में यह भवन कला जगत को समर्पित किया है।
लोकार्पण समारोह को संबोधित करते हुए मप्र विधानसभा के अध्यक्ष डॉ.सीतासरन शर्मा ने कहा कि एक कवि के नाम पर बने इस भवन को साहित्य, कला जगत को समर्पित करते हुए हर्ष हो रहा है। उन्होंने कहा कि हमने प्रोफेसर कश्मीर सिंह उप्पल के सुझाव पर यहां कविवर भवानीप्रसाद मिश्र की एक कविता भी अंकित करके रखी है। उन्होंने बताया कि यह ऑडिटोरियम बड़ी मुश्किल से बना है। पूर्व विधायक गिरिजाशंकर शर्मा ने इसकी स्वीकृति दिलायी थी, पूर्व केन्द्रीय मंत्री सुरेश पचौरी इसका भूमिपूजन कर गए थे, लेकिन फंड नहीं था। आपने हमें चुना, नपा में भाजपा को लाए तो इसे पूरा किया जा सका है। उन्होंने कहा कि यहां राजनीति की बात करना ठीक नहीं, लेकिन पिछले दिनों से हो रहे लोकार्पण समारोह में कांग्रेस जो विरोध की राजनीति कर रही है, काले झंडे दिखाए जा रहे हैं, आखिर ये किस बात का विरोध कर रहे हैं। शहर में हो रहे विकास को इनसे देखा नहीं जा रहा है। उन्होंने संस्कृति मंत्री से कहा कि आप संस्कृति विभाग के माध्यम से भारत निर्माण कर रहे हैं और अन्य विभाग विकास के अन्य निर्माण कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि कविवर भवानी प्रसाद मिश्र वे व्यक्तित्व थे जिनकी कलम आपातकाल के दौरान भी नहीं थमी थी। डॉ. शर्मा ने शहर के विकास में पूर्व मंत्री और सिवनी मालवा के विधायक सरताज सिंह को भी याद करते हुए कहा कि उन्होंने भी खेल, कला जगत के साथ शहर में भी काफी विकास के काम किए हैं। डॉ. शर्मा ने कहा कि यह कला और साहित्य जगत को समर्पित है, इसका संचालन कैसे करना है, इसके लिए हम आपसे ही सुझाव लेकर संचालन करेंगे।

संस्कृति एवं पर्यटन मंत्री सुरेन्द्र पटवा ने कहा कि उनका इस क्षेत्र से पुराना जुड़ाव है, जब उनके चाचा सुंदरलाल पटवा यहां से चुनाव लड़े थे तो मैं यहां डॉ. साहब के सानिध्य में चुनाव में काम करता था। उन्होंने सबको ऑडिटोरियम की बधाई दी तथा बताया कि संस्कृति भवन प्रदेश के छोटे से छोटे कलाकार को आगे बढ़ाने के लिए किस तरह से काम कर रहा है। उन्होंने बताया कि जब 2004 में भाजपा की सरकार बनी, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में हमने रीति-रिवाज और देश की सांस्कृतिक परंपराओं को जीवित करने का काम किया है। जहां 2004 में यह विभाग केवल 30 पुरस्कार देता था, आज 82 पुरस्कार दिए जा रहे हैं। 18 सौ छोटे-बड़े कार्यक्रम किए हैं, किशोर दा पुरस्कार, तानसेन पुरस्कार, कालीदास पुरस्कार, खजुराहो महोत्सव जैसे काम किए हैं। हमने प्रतिभा खोज के कार्यक्रम चलाए जिसमें छोटे से गांव से भी कलाकारों को आगे बढ़ाने का काम किया है। हमने भजन मंडलियों को 58 करोड़ रुपए की सामग्री बांटी है। उन्होंने घोषणा की है कि जल्द ही इटारसी में भी संस्कृति विभाग एक बड़ा कार्यक्रम करेगा। उन्होंने युवा पीढ़ी से आग्रह किया कि वे भोपाल जाएं तो जनजातीय संग्रहालय और शौर्य स्मारक घूमने अवश्य जाएं। नपाध्यक्ष श्रीमती सुधा अग्रवाल ने कहा कि पिछले कुछ दिनों में हमने शहर की महत्वपूर्ण जरूरतों को पूरा किया है। खेल प्रशाल, सब्जी मंडी, तालाब और अब ऑडिटोरियम का लोकार्पण हो रहा है।


पिपरिया के पूर्व विधायक हरिशंकर जैसवाल ने कहा कि आपने डॉ. शर्मा जैसे प्रतिनिध को चुना है, वे जो ठान लेते हैं, उसे पूरा करके ही मानते हैं। उन्होंने कहा कि फिर अवसर आ रहा है, आप विकास के लिए उनको फिर आशीर्वाद दीजिए। इससे पूर्व कविवर भवानी प्रसाद मिश्र की नातिन विधि पचौरी का अतिथियों ने स्वागत किया। ग्राम टिगरिया जहां भवानी दादा का जन्म हुआ वहां से आए गणेश गौर, आदेश गौर, अखिलेश गिरि, प्रदीप गौर आदि का भी स्वागत किया गया। विधायक प्रतिनिधि कल्पेश अग्रवाल के नेतृत्व में हुए कामों के लिए उनका मंच पर शॉल और माला पहनाकर अभिनंदन किया। कार्यक्रम में सीएमओ अक्षत बुंदेला, पूर्व सीएमओ सुरेश दुबे, भाजपा मंडल अध्यक्ष नीरज जैन, पिछड़ा वर्ग जिलाध्यक्ष जयकिशोर चौधरी, सभापति जसबीर सिंघ छाबड़ा, भरत वर्मा, श्रीमती रेखा मालवीय, सरोज उईके, भाजपा कोषाध्यक्ष सुनील राठौर, वार्ड के पार्षद संजय चौधरी सहित अन्य पार्षद मधु बड़कुर, श्रीमती तुलसा वर्मा, मंजू मालवीय, अभिषेक कनोजिया, राजकुमार यादव, अनवर अली, नंदा सोनकर, महेन्द्र चौधरी सहित अनेक लोग उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन गोविन्द्र श्रीवास्तव ने तथा आभार प्रदर्शन सीएमओ अक्षत बुंदेला ने किया।


कथक नृत्य की मनमोहक प्रस्तुति
कविवर भवानी प्रसाद मिश्र संस्कृति भवन में कार्यक्रम के बाद नयी दिल्ली के अनुप्रिया ने कथक नृत्य की मनमोहक प्रस्तुति दी। अनुप्रिया इन दिनों इटारसी और आसपास के ग्रामीण अंचलों में बच्चों को कथक का प्रशिक्षण प्रदान कर रही हैं। आज संस्कृति भवन के लोकार्पण समारोह में उनके तीन नृत्य का कार्यक्रम किया था। उन्होंने अपने नृत्य कला से सभागार में मौजूद दर्शकों का दिल जीत लिया।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: