शोभापुर कॉलोनी में स्वाइन फ्लू से 1 की मौत

वार्ड में गंदगी का अंबार नगरपालिका का स्वास्थ्य महकमा मौन
प्रमोद गुप्ता
सारणी। शोभापुर के हालेज कॉलोनी में निवास करने वाले 51 वर्षीय व्यक्ति की स्वाइन फ्लू से रविवार रात में मौत हो गई है। उनका उपचार बैतूल के राठी अस्पताल में पिछले एक हफ्ते से चल रहा था। बताया जाता है कि 5 सितंबर से उनका स्वास्थ्य गड़बड़ चल रहा था जिन्हें उपचार के लिए पहले बैतूल के राठी अस्पताल में ले जाया गया जहां उन्हें निमोनिया होना बताया गया। लेकिन अचानक 2 दिन पहले उन्हें स्वाइन फ्लू की पुष्टि कर दी। उपचार के लिए उन्हें आईसीयू में रखा। रविवार रात 3 बजे के लगभग उनकी मौत हो गई है। बता दें कि शोभापुर कॉलोनी में स्वाइन फ्लू से यह दूसरी मौत हुई है। दो घटना होने से शोभापुर के 6 वार्डों में दहशत का माहौल बना हुआ है। आश्चर्य की बात तो यह है कि स्वाइन फ्लू फैलने की जानकारी प्रशासन को होने के बाद भी प्रशासन शोभापुर कॉलोनी में पहुंच नहीं पा रहा है।
कॉलोनी में हो रहा है सूअर पालन –
पाथाखेड़ा के 16 और शोभापुर के 6 वार्डों में बीज कॉलोनी को भी सूअर पालन का कार्य भी लंबे समय से किया जा रहा है जिसकी वजह से कालोनियों में गंदगी फैल रही है। ज्यादातर स्वाइन फ्लू के मरीज चूहे और सूअर से होना बताया जा रहा है। सबसे ज्यादा गंदगी और सूअरों की संख्या पाथाखेड़ा, शोभापुर के कॉलोनी में होने की वजह से स्वाइन फ्लू फैलने की आशंका बनी हुई है। आश्चर्य की बात तो यह है कि नगर पालिका परिषद सारणी को इसकी जानकारी होने के बाद भी नगरपालिका के स्वास्थ्य महकमे ने सुअर पालन कार्य में जुटे लोगों को नोटिस जारी नहीं किया गया है।
इनका कहना है
शोभापुर के हाल एच कॉलोनी में स्वाइन फ्लू से मौत होने की जानकारी मिली है। मौके पर सफाई के लिए कर्मचारियों को भेजा है। वार्ड में पूर्व में भी सफाई की जा चुकी है। सूअर पालन करने वालों को नोटिस जारी करके कॉलोनी से बाहर पालन करने के आदेश दिए जाएंगे।
कमल किशोर भावसार, एसआई नपा
सदी-खांसी और हाथ मिलाने से स्वाइन फ्लू सबसे ज्यादा फैलता है। ऐसी स्थिति में यदि किसी को भी सर्दी-खांसी या बुखार हो तो वह किसी से हाथ ना मिलाएं और उपचार के लिए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र जाए। 1 सप्ताह से स्वास्थ्य महकमे की टीम शोभापुर कॉलोनी में लगी हुई है। मृतक को स्वाइन फ्लू हुआ है, इसकी जानकारी पहले से ही मिल चुकी थी।
डॉक्टर शैलेंद्र साहू, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पाठाखेड़ा प्रभारी

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
Narmadanchal

FREE
VIEW