श्रीराम मंदिर का भूमिपूजन : आतिशबाजी और बंटी मिठाईयां

श्रीराम मंदिर का भूमिपूजन : आतिशबाजी और बंटी मिठाईयां

इटारसी। जिस वक्त अयोध्या में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Narendra modi) श्रीराम मंदिर(Shriram Mandir) की आधारशिला रख रहे थे, यहां हजारों किलोमीटर दूर इटारसी(Itarsi) में अनेक स्थानों पर आतिशबाजी हो रही थी और मिष्ठान का वितरण हो रहा था। मंदिरों में घंटे और शंख की ध्वनि सुनाई दे रही थी। कई स्थानों पर लोग इस ऐतिहासिक पल के साक्षी बन रहे थे। श्री द्वारिकाधीश मंदिर (Shri Dwarikadhish Mandir)में इस ऐतिहासिक पल से आमजन को रूबरू कराने के लिए एलईडी (L.E.D)पर कार्यक्रम का सीधा प्रसारण किया गया था, जहां फिजिकल डिस्टेंसिंग के साथ इसे देखने की व्यवस्था की गई थी। इय दौरान श्री बूढ़ी माता मंदिर में भी सुंदरकांड का पाठ किया गया।

तिलकसिंदूर में जले दीप

भगवान भोलेनाथ (Bholenath) का दरबार तिलकसिंदूर (Tilaksindoor) में सतपुड़ा(Satpuda) श्रंखलाओं के बीच भी श्रीराम मंदिर के भूमिपूजन पर खुशियां मनायी गयीं। यहां गुफा मंदिर में शिवलिंग (Shivling) के चारों ओर दीपों से सजाया गया था, जो बेहद खूबसूरत लग रहा था। गुफा के भीतर मंदिर में आटे के दर्जनों दीपक जलाये गये थे।

बाजार में मनायी खुशियां


यहां चावल बाजार में उन लोगों ने इस ऐतिहासिक पल पर खुशियां मनायीं, जो मंदिर आंदोलन में सहभागी बने थे। अशोक लाटा (Ashok Lata) के नेतृत्व में उनके साथियों और चावल बाजार के व्यापारियों ने यहां पटाखे फोड़े और लड्डुओं का वितरण किया गया था। इसके साथ ही जयश्रीराम का उद्घोष भी किया गया।

एलईडी पर सीधा प्रसारण

श्री द्वारिकाधीश मंदिर में दोपहर के वक्त भक्तों को श्रीराम मंदिर के अयोध्या से हो रहे सीधे प्रसारण को दिखा गया था। यहां मंदिर के सामने स्थित शेड में एलईडी लगायी थी और लोगों को फिजिकल डिस्टेंसिंग के साथ बैठने की व्यवस्था की गई थी। लोगों ने उत्साह और उमंग से सीधा प्रसारण देखा।

घंटे, शंख बजाकर खुशी मनी


ओवरब्रिज के नीचे स्थित श्री हनुमानधाम मंदिर (Hanumandham Mandir)में भक्तों और मंदिर समिति के सदस्यों ने अयोध्या में श्रीराम मंदिर की आधारशिला रखी जाने की खुशी में न सिर्फ पटाखे फोड़े बल्कि मंदिर समिति के सदस्यों ने घंटे और शंख की ध्वनि से इस पल का स्वागत किया और मंदिर में विराजे भगवान को धन्यवाद दिया।

CATEGORIES
TAGS

AUTHORRohit

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: