सटोरिये पकड़े, मुख्य खाईबाज अब भी पकड़ से दूर

इटारसी। पथरोटा पुलिस ने सोमवार को रंजीत ढाबे के समीप सट्टा लिख रहे प्रकाश पिता शंकरलाल अहिरवार नयाखेड़ा को गिरफ्तार कर उसके पास से 1500 रूपये नगद व सट्टा पर्ची जब्त की गई। इसके आलावा नहर के पास से सुनील पिता रामावतार चिमानिया जुझारपुर निवासी को सट्टा लिखते गिरफ्तार किया गया। आरोपी के पास से 1770 रूपये नगद सहित सट्टा पर्ची जब्त की गई। दोनों आरोपियों के विरुद्ध धारा 4 क सट्टा अधिनियम के तहत कार्रवाई की गई ।
चर्चा है कि पुलिस ने एजेंटों को तो गिरफ्तार कर लिया लेकिन मुख्य खाईबाज तक पुलिस के हाथ नहीं पहुंचते हैं। पुलिस भी एजेंटों को गिरफ्तार करती है जो जल्द ही कोर्ट से छूट जाते हैं। पुलिस कभी एजेंटो से पूछताछ भी नहीं करती है कि वह किस खाईबाज के लिए सट्टा लिख रहा है। चर्चा है कि नगर का पुराना नामी खाईबाज का सट्टा कारोबार पथरोटा थाना क्षेत्र के आसपास पूरी तरह से फैल चुका है। सूत्रों का कहना है कि ये पुराना सटोरिया फिर से सक्रिय हो गया है और उसने पथरोटा क्षेत्र में अपना कारोबार भी जमा लिया है। आज भले ही पथरोटा थाना प्रभारी कंचन सिंह ठाकुर व उनकी टीम ने कुछ क्षेत्रों मे ंदबिश देकर दो सट्टा एजेंट को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की है। लेकिन जब तक मुख्य खाईबाज तक हाथ नहीं पहुंचेंगे, पुलिस की यह सफलता अधूरी ही मानी जाएगी। एसआई प्रभारी कंचन सिंह ठाकुर की कार्यशैली तेज तर्रार पुलिस अधिकारी की है, लेकिन उनके क्षेत्र में सट्टा खाईबाज की दस्तक होना भी एक चुनौती है?

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
Narmadanchal

FREE
VIEW