सरकारी अस्पताल में आयी डिजीटल एक्सरे मशीन

इटारसी। अब सरकारी अस्पताल में भी डिजीटल एक्स-रे मशीन से स्पष्ट एक्स-रे हो सकेंगे। इसका फायदा यह होगा कि अब अत्यंत सूक्ष्म फ्रेक्चर भी स्पष्ट और सही तरीके से किये जा सकेंगे। अब तक सूक्ष्म एक्स-रे के लिए सरकारी अस्पताल के बाहर या निजी अस्पतालों में एक्स-रे कराना पड़ता था जिसमें समय और धन अधिक लगता था।
डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी शासकीय अस्पताल में डिजीटल एक्स-रे मशीन आ गई है। कुछ दिनों में कंपनी के इंजीनियर आकर इसको इंस्टॉल कर देंगे फिर शहर के गरीब मरीजों को भी इसका लाभ मिलने लगेगा और निजी अस्पतालों में अधिक रुपए नहीं देने पड़ेंगे। सोमवार को डिजीटल एक्स-रे मशीन अस्पताल में आ गयी है। संभवत: एक सप्ताह के अंदर कंपनी से इंजीनियर आकर इसे इंस्टॉल करेंगे फिर इसका लाभ मरीज ले सकेंगे। दरअसल डिजीटल एक्स-रे मशीन से यह फायद होता है कि बारीक से बारीक फे्रक्चर भी इसमें दिख जाता है और कम्प्यूटराइज्ड होने और स्क्रीन पर चीजें दिखने से सही तरीके से एक्स-रे लिया जा सकता है। यानी एक्स-रे की क्वालिटी में सुधार आ जाएगा। बता दें कि पिछले दिनों कलेक्टर शीलेन्द्र सिंह ने डिजीटल एक्स-रे मशीन लेने के निर्देश अधीक्षक डॉ. एके शिवानी को दिये थे। डॉ. शिवानी ने बताया कि साढ़े पांच लाख प्लस जीएसटी जोड़कर इसकी लागत आयी है। फिलहाल इसे रोगी कल्याण समिति की राशि से खरीदा है, जब जनभागीदारी की राशि आएगी तो समिति को पचास फीसदी राशि वापस मिल जाएगी। कुल जमा यह गरीब मरीजों के लिए अच्छी खबर है।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
Narmadanchal

FREE
VIEW