सिग्नल ब्रेक कर तीन ट्रेन रोकी, दो में लूट, यात्रियों पर पथराव

इटारसी। शुक्रवार-शनिवार की दरम्यानी रात अज्ञात लुटेरों ने सिग्नल ब्रेक कर होशंगाबाद और इटारसी के बीच तीन ट्रेनों को रोका और दो ट्रेनों में लूट की घटना को अंजाम दिया। यह वारदात रेलवे के गेट नंबर 230 के पास हुई है। अज्ञात बदमाशों ने रेलवे सिग्नल ब्रेक कर केरला और झेलम एक्सप्रेस के यात्रियों को लूटने का प्रयास किया। बदमाश केरला एक्सप्रेस में सवार एक महिला की सोने की चैन और लॉकेट झपटकर भागने में कामयाब हो गए, चंद मिनट बाद बदमाशों ने झेलम एक्सप्रेस पर पथराव कर दिया। हादसे में न्यूयार्ड निवासी रेलकर्मी का बेटा बुरी तरह जख्मी हुआ है।

मिली जानकारी के अनुसार रात 2 बजकर 18 मिनट पर 12626 नई दिल्ली-त्रिवेन्द्रम केरला एक्सप्रेस इटारसी आ रही थी, तभी सिग्नल नंबर 14 लाल हो गया। घबराए ड्राइवर और गार्ड ने लाइन क्लियर न होने से तत्काल ट्रेन खड़ी कर दी, इसी बीच आधा दर्जन बदमाशों ने एस-6 कोच में खिड़की साइड बैठी दिल्ली से सेलम जा रहीं इंद्रपुरी नई दिल्ली निवासी महिला ज्योति पुत्री पलनीअप्पन के गले से सोने की चैन और लॉकेट झपट लिया। लुटेरों ने अन्य यात्रियों को भी लूटने की कोशिश की और कोच पर पथराव भी किया। घबराए यात्रियों ने खिड़की बंद कर लॉक कर दी। जीआरपी ने एक महिला से ही लूट का दावा किया है। टीसी के मैसेज पर ट्रेन को वारदात के बाद चलाया। रात 2 बजकर 40 मिनट पर ट्रेन इटारसी स्टेशन के प्लेटफार्म 2 पर आइ और मैसेज पर आरपीएफ एसआई धर्मपाल सिंह, एसपी सिंह ने ट्रेन अटेंड की, लेकिन जीआरपी समय पर नहीं पहुंचने से यहां रिपोर्ट नहीं हो सकी। दस मिनट बाद ट्रेन चली गई। सूचना पर नागपुर जीआरपी जांच के लिए रवाना हुई।
रात करीब ढाई बजे लाल सिग्नल की वजह से जम्मू से पुणे जा रही 11078 झेलम एक्सप्रेस भी यहां खड़ी हो गई। इसमें ट्रेन से चैन पुलिंग भी हुई थी। तभी ट्रेन के एस-4 कोच में सवार न्यूयार्ड निवासी रिटायर्ड रेलकर्मी हरिशंकर भेरूआ का पुत्र जनपद सदस्य योगेश भेरूआ के सिर पर पत्थर लगा। यहां खड़े बदमाशों ने घबराकर कोच पर पथराव कर दिया, अंदर आते ही सागर के सिर पर पत्थर लगा और वह बेहोश हो गया।
टीसी के मैसेज पर रात 2 बजकर 58 मिनट पर जीआरपी कंट्रोल की सूचना पर होशंगाबाद-इटारसी की जीआरपी टीम घटनास्थल पर पहुंची, लेकिन तब तक बदमाश भाग चुके थे और ट्रेनें भी निकल गई थीं। पुलिस ने टार्च के जरिए आउटर में सर्चिंग की, लेकिन कोई सुराग नहीं मिला। इटारसी में रात 3 बजकर 10 मिनट पर प्लेटफार्म तीन पर झेलम एक्सप्रेस यहां पहुंची, तब तक टीआई चौहान एवं पुलिस बल कोच में पहुंचा। यहां जख्मी योगेश भेरूआ से पूछताछ के बाद उसे इलाज के बाद घर भेजा गया। योगेश ने बताया कि वह पिता के पास पर दवाई लेने विदिशा मौसी के घर गया था। वापसी में झेलम से आ रहा था, आउटर पर पथराव में जख्मी हो गया।
घटना के बाद शनिवार दोपहर आईजी रेल डीपी गुप्ता, आरपीएफ कमांडेट विवेक सागर, एसआरपी मनीष अग्रवाल, एसपी एमएल छारी, डीएसपी रेल अजय संगर, एसडीओपी उमेश द्विवेदी, असिस्टेंट कमांडेट आरपीएफ एसी जानी, हबीबगंज आरपीएफ टीआई एसके बाजेपयी, थाना प्रभारी विक्रम रजक, आरपीएफ टीआई एसपी सिंह, थाना प्रभारी विक्रम रजक ने मौका मुआयना किया। घटनास्थल पर पुलिस को कोई भी सुराग नहीं मिला है।
इनका कहना है…!
बदमाशों ने सिग्नल ब्रेक कर केरला एक्स. में एक महिला से चैन झपटी है, वहीं झेलम एक्स. पर पथराव में एक यात्री जख्मी हुआ है। आरोपियों की तलाश कर रहे हैं, कुछ संदिग्धों से पूछताछ जारी है। हम नए सिरे से सभी ट्रेनों में पेट्रोलिंग बढ़ाने का प्लॉन कर रहे हैं, जल्द ही आरोपी पकड़े जाएंगे।
डीपी गुप्ता, आईजी रेल

CATEGORIES
TAGS
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
Narmadanchal

FREE
VIEW