सूरत से चले, बच्चे को कंधे पर रखकर

सूरत से चले, बच्चे को कंधे पर रखकर

इटारसी। देश के विभिन्न प्रांतों से मजदूरों का पलायन जारी है। कारखाने बंद हैं और प्रधानमंत्री की अपील के बावजूद मजदूरों को पैसा भी नहीं मिल रहा है और परिवार के लोग भी घर वापस बुला रहे हैं तो वे अपने घरों को लौट रहे हैं। आज सूरत से उत्तरप्रदेश जाने के लिए करीब दो दर्जन मजदूरों का एक दल इटारसी होकर गुजरा तो उनको यहां गुरुद्वारा में गुरुसिंघ सभा ने लंगर में भोजन कराया।
सूरत से इलाहाबाद जा रहे 24 लोगों के ग्रुप में शामिल मजदूर फूल सिंह ने बताया कि वे 28 मार्च को सूरत गुजरात से अपने घर के लिए निकले थे। रास्ते में जहां भी जैसा साधन पुलिस ने उपलब्ध कराया, उस साधन ने चलते गये। उन्होंने कहा कि पुलिस ने ट्रक या जो भी वाहन मिला, उसमें बिठाकर आगे बढ़ाते रहे। रास्तेभर उनको पुलिस ने खाने और पानी का भी इंतजाम किया। वे सोमवार को सुबह यहां इटारसी रेलवे स्टेशन के सामने एक ट्रक से उतरे। यहां गुरुद्वारा के पास से गुजर रहे थे तो गुरुद्वारा गुरुसिंघ सभा के सेवादारों ने उनको बुलाकर भोजन कराया।
दो दर्जन लोगों के दल में महिलाएं और बच्चे भी शामिल हैं। पांच वर्ष के बच्चे को अपने कंधे पर बिठाकर कई बार पैदल यात्रा भी ग्रुप के सदस्यों ने की है। महिलाएं भी इनके साथ कदम से कदम मिलाकर पैदल चली हैं। जहां साधन मिला उसके सहारे आगे बढ़ लिए और जहां उतरे तो फिर पैदल मंजिल की तरफ बढ़ चले। कहीं पुलिस ने किसी वाहन को रोककर उसमें बिठाकर आगे बढ़ाया और जहां तक वाहन चला, वहां तक उसमें रहे फिर पैदल यात्रा की। इसी तरह से आगे बढ़ते रहे और साधन मिलता रहा तो दो दिन में सभी इलाहाबाद पहुंच जाएंगे।

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: