हजारों श्रद्धालु आए शिव नगरी, होंगे मुख्य दर्शन

हजारों श्रद्धालु आए शिव नगरी, होंगे मुख्य दर्शन

पचमढ़ी। सतपुड़ा की रानी में चौरागढ़ में स्थित शिव मंदिर में हजारों श्रद्धालुओं ने भगवान शिव के दर्शन किए। 25 फरवरी तक होने वाले मेले में नागपुर, अमरावती, अकोला, भुसावल, चन्द्रपुर, बैतूल, पांढुर्ना, छिंदवाड़ा के हजारों श्रद्धालुओं ने मेले में शिरकत कर चौरागढ़, बड़ा महादेव स्थल पर पूजा अर्चना की। भूरा भगत, नांदिया, चौरागढ़, बड़ा महादेव, गुप्त महादेव, जटाशंकर आदि स्थानों के दर्शन कर रहे हैं। मेले में श्रद्धालुओं को निशुल्क पेयजल, स्वास्थ्य संबंधी आवश्यक दवाएं, मेला क्षेत्र में बिजली एवं सफाई के अलावा श्रद्धालुओं को ठहरने के लिए टेंट आदि की व्यवस्था प्रशासन द्वारा की गयी है। मेला क्षेत्र में 14 स्थान चिन्हित किए है जिनमें सेक्टर मजिस्ट्रेट, चिकित्सक, लोक स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी तथा टेंट आदि की व्यवस्था की गई है। महादेव मेला समिति के संरक्षक एवं जिले के कलेक्टर अविनाश लवानिया के निर्देशानुसार महादेव मेला क्षेत्र को मद्य निषेध क्षेत्र घोषित किया है। प्रतिदिन दुकानों से खाद्य सैंपल, पेयजल जांच, अवैध किराया न लेने संबंधी कार्यवाही अधिकारी कर रहे हैं। मेले में श्रृद्धालुओं का स्वास्थ्य परीक्षण किया जा रहा है, जिनका स्वास्थ्य खराब हो जाता है उन्हें एम्बुलेंस से पचमढ़ी अस्पताल में स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध करायी जाती है। एसडीएम सतीश कुमार एस ने चौरागढ़ पहाड़ पर स्थित शिवमंदिर तक जाकर वहां की व्यवस्थाओं का जायजा लिया और श्रद्धालुओं से चर्चा की।
निर्धारित पार्किंग स्थल पर ही वाहन करें पार्क
कलेक्टर अविनाश लवानिया ने यातायात के सुचारू प्रबंध के लिए एवं वाहनों की आवाजाही के सुचारू संचालन के लिए मेले में आने वाले वाहनों को पार्किंग के लिए निर्धारित स्थानों पर पार्क करने के निर्देश दिए हैं। अनियंत्रित पार्किंग करने वालों पर दंडात्मक कार्यवाही की जाएगी। ग्राम नांदिया में श्रद्धालुओं के ठहरने के विशेष प्रबंध किए है। श्रद्धालुओं को पेयजल के साथ ग्राम में प्रकाश व्यवस्था, टेंट में ठहरने की व्यवस्था, पार्किंग व्यवस्था के साथ श्रद्धालुओं की आवश्यकतानुसार मुलभूत प्रबंध किये हैं। मेले में आने वाले श्रद्धालुओं ने जिला प्रशासन द्वारा की जा रही व्यवस्था से संतुष्टि जताई है।
व्यवस्थाओं की सराहना
महादेव मेले में चौरागढ़ शिव मंदिर के दर्शन करने महाराष्ट्र राज्य के अमरावती से अपने 7 वर्षीय पुत्र अनिल के साथ आये रामकुमार सिंह ने चर्चा के दौरान बताया कि वे पिछले पांच वर्षों से लगातार चौरागढ़ महादेव मेले में दर्शन करने आ रहे हैं। इस बार उन्हें पहले से काफी अच्छी व्यवस्थाएं मिलीं। वर्धा जिले के हिगनापुर के रमेश दीक्षित ने मेला समिति द्वारा इस वर्ष यात्रियों की सुविधा के लिए महादेव मेले में त्रिशूल संबंधी व्यवस्था की सराहना की। चन्द्रपुर महाराष्ट्र के उमेश राजपूत ने बताया कि वे पिछली तीन साल से चौरागढ़ आ रहे है इस बार पहले से काफी अच्छी व्यवस्था है। मैहर जिला सतना के विनय श्रीवास चूड़ी की दुकान लेकर चौरागढ़ मेले में आए हैं। उन्होंने बताया कि इस दुर्गम मार्ग वाले तीर्थ स्थल पर प्रशासन द्वारा जगह-जगह पर जो चिकित्सा सुविधा केन्द्र स्थापित किए हैं उनसे यात्रियों को काफी राहत मिल रही है।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: