हुई पोषण आहार प्रतियोगता

इटारसी। महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा संचालित नाला मोहल्ला क्षेत्र की पंद्रह आंगनवाड़ी केन्द्रों का एक संयुक्त आयोजन युगांतर स्कूल के सभाकक्ष में आयोजित किया। कार्यक्रम में पोषण आहार प्रतियोगिता आयोजित हुई एवं महिलाओं व किशोरी बालिकाओं को आत्मनिर्भरता के गुण बताये गये।
संपूर्ण नाला मोहल्ला क्षेत्र के एक मात्र अर्धशासकीय शैक्षणिक संस्थान युगांतर माध्यमिक शाला के सभाहाल में महिला एवं बाल विकास द्वारा जारी वर्तमान पोषण माह के अंतर्गत आज गुरुवार को विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किये गये जिसमें सर्वप्रथम बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ के अंतर्गत रंगोली, मेहंदी और क्विज प्रतियोगिता की गई जिसकी विजेता बालिकाओं को पुरस्कृत किया। इसके अलावा पंद्रह केन्द्रों की सभी मिनी व मेन आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं और युगांतर स्कल की बालिकाओं ने टीएचआर से बने पौष्टिक व्यंजनों की प्रदर्शनी लगायी। यह प्रदर्शनी भी प्रतियोगिता के अंतर्गत ही लगायी गयी थी। इसका निरीक्षण कार्यक्रम की अतिथि महिलाओं ने किया। इसके बाद महिलाओं व बालिकाओं के स्वास्थ्य व सुरक्षा को लेकर संगोष्ठी आयोजित हुई जिसमें मुख्य वक्ता युगांतर शिक्षण संस्थान की अध्यक्ष सविता बस्तवार ने कहा कि प्रदेश व केन्द्र सरकारों के द्वारा महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए जो योजनाएं संचालित की जा रही हैं, उसकी जानकारी व उसका लाभ पिछड़े क्षेत्रों तक प्राथमिक के साथ पहुंचना चाहिए। उन्होंने बालिकाओं एवं उनकी माताओं से भी आंगनवाड़ी केन्द्रों में पहुंचकर योजनाओं से लाभान्वित होने की अपील की।
महिला एवं बाल विकास विभाग की क्षेत्रीय सुपरवायजर सीमा मेहरा ने पोषण स्वास्थ्य, स्वच्छता एवं गुड टच, बेड टच की जानकारी दी। युगांतर स्कूल की शिक्षक विनीता बस्तवार ने महिला एवं बाल विकास विभाग का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि महिलाओं एवं बालिकाओं के उत्थान के लिए हमारी संस्था सदैव तत्पर रहेगी। उक्त आयोजन को सफल बनाने में स्कूल की शिक्षक रितु पटेल, पदमनी दमाड़े, सुमन मेहरा, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता शमा परवीन, किरण गोयल, मीना गुप्ता, आशा वैस्वाल, शबनम बी, शकीला बी आदि का योगदान रहा।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
Narmadanchal

FREE
VIEW