Breaking: गर्ल्स हॉस्टल से चोरी 2 लाख का माल जब्त, आरोपी गिरफ्तार

Breaking: गर्ल्स हॉस्टल से चोरी 2 लाख का माल जब्त, आरोपी गिरफ्तार

होशंगाबाद। कोतवाली पुलिस ने उत्कृष्ट विद्यालय मल्टीपर्पस गर्ल्स हॉस्टल(girls hostal) के ऑफिस(office) में हुई चोरी के आरोपियों(aaropi) को गिरफ्तार कर उनसे चोरी का सामान बरामद कर लिया है। मामले में तीन आरोपियों की गिरफ्तारी(Arrest) हुई है।
पुलिस के अनुसार एसपी संतोष सिंह गौर(sp santosh singh gour) के मार्गदर्शन एवं एएसपी अवधेश प्रताप सिंह(asp avdesh pratap singh) एवं एसडीओपी शैलजा पटवा(sdop shelja patwa)के निर्देशन में टीम ने लगातार मेहनत करके महज पांच दिन में इस चुनौतीपूर्ण वारदात का खुलासा कर चोरी गया लगभग दो लाख रुपए का माल भी बरामद कर लिया है। चोरी में प्रयुक्त दो बाइक भी जब्त की है।

ये सामान गया था चोरी
गल्र्स हॉस्टल के आफिस से चोरों ने 28.29 की दरम्यानी रात ताला तोड़कर उषा कंपनी के 68 नग पंखेए नेरोलक कंपनी की कलर से भरी 8 बाल्टीए वेस्टन सीट एक नग सहित अन्य सामान चोरी कर लिया था। पंकज पिता सत्यभान विश्वकर्मा ने 5 अगस्त को चोरी की शिकायत कोतवाली थाने में दर्ज करायी थी।

मुखबिर तंत्र सक्रिय कर सफलता
कोतवाली पुलिस ने रिपोर्ट मिलते ही मुखबिर तंत्र को सक्रिय किया। सूचना प्राप्त हुई कि तीन लड़के पंखे बेचने का सौदा करने की नीयत से जुमेराती काली मंदिर के पीछे घूम रहे हैं। शंका है कि यह माल चोरी का हो सकता है। तत्काल टीम को रवाना किया गया और लड़कों की घेराबंदी करके पकड़ लिया गया।

ये हैं तीनों आरोपी
चोरी के तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर जब पुलिस ने पूछताछ की तो उन्होंने अपना नाम दिलीप पिता रमेश मानकर 25 वर्षए निवासी पशु चिकित्सालय के पास जुमेराती होशंगाबादए आसिफ अली पिता साबिर अली 24 वर्षए निवासी मदारवाड़ा बीटीआई रोड होशंगाबाद बताया। मामले का तीसरा आरोपी नाबालिग है।

ऐसे दिया वारदात को अंजाम
पहले तो पूछताछ में तीनों आरोपी पुलिस को गुमराह करते रहे। जब पुलिस ने सख्ती दिखाई तो बताया कि उन्होंने मोटर सायकिल से जाकर निर्माणाधीन गल्र्स हॉस्टल से 17 पंखे की पेटियां 8 पेटी पंखे की ब्लेडए 4 पंखे की खुली ब्लेड के पैकेटए 8 नेरोलेक पेंट की बाल्टियां दो मोटर सायकिल से चोरी करना बताया।

इनकी रही मेहनत
एसडीओपी शैलजा पटवा, टीआई संतोष सिंह चौहान, उपनिरीक्षक हेमंत निशोद, पीएसआई प्रवीण कुमार यादव, प्रधान आरक्षक लक्ष्मण, रोमी पावेल मसीह, आरक्षक महेश मीना, महेन्द्र चौहान, शैलेन्द्र वर्मा, लोकेश जाट, वीरेन्द्र श्रीवास्तव, ताराचंद एवं प्रकाश रघुवंशी की मेहनत से मामले में सफलता मिली।

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: