24 किमी पैदल चलते हैं विद्यार्थी पढ़ाई के लिए

प्रमोद गुप्ता सारणी से

प्रमोद गुप्ता सारणी से
सारनी़। डोंगरी ब्लाक के छत्तरपुर गांव में वर्षो से हाईस्कूल की मांग की जा रही है। इस गांव में प्रतिवर्ष 80-90 बच्चे यह से शोभापुर कॉलोनी पढ़ाई के लिए आवागमन करते है। छतरपुर से शोभापुर की दूरी लगभग 12 किलोमीटर है। यदि गांव में हाईस्कूल की व्यवस्था हो जाती तो गांव के विद्यार्थियों को प्रतिदिन 24 किलोमीटर की दूरी तय नहीं करनी पड़ती।
गांव के युवा समाजसेवी सुनिल सरयाम ने बताया कि विगत पांच वर्षों से गांव में हाईस्कूल खुलवाने के लिए ग्रामीण संघर्षरत है, लेकिन उन्हें सफलता नहीं मिल पाई है। उन्होंने बताया कि गांव के लोगों के माध्यम से कलेक्टर से मुलाकात की गई थी। जिस पर कलेक्टर ने प्रस्ताव बनाकर मप्र शासन को भेजा था। प्रस्ताव भेजने के बाद हाईस्कूल की घोषणा की गई थी, लेकिन पांच वर्ष का लंबा समय बीत जाने के बाद भी छतरपुर गांव में हाईस्कूल की सौगात नही मिल पाई है। नगरीय निकाय के दौरे पर प्रभारी मंत्री लालसिंह आर्य गुरूवार को पाथाखेड़ा आए थे। जहां पर उनसे मुलाकात करके उन्हें ज्ञापन सौंपकर छतरपुर गांव में हाईस्कूल खुलवाने की मांग की है। ज्ञापन सौंपने वालों में सरपंच देवकराम ककोडिया, शिवदीन सरयाम, राजेश सरयाम,मोहित ककोडिया प्रमुख रूप से उपस्थित थे।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
Narmadanchal

FREE
VIEW