8 को है मौका, सारे गिले-शिकवे भूल समझौते के लिए आएं आगे

8 को है मौका, सारे गिले-शिकवे भूल समझौते के लिए आएं आगे

इटारसी। तहसील विधिक सेवा समिति के तत्वावधान में 8 अप्रैल को नेशनल लोक अदालत में प्रकरणों के निबटारे के लिए बैंकों ने करीब 221, बिजली विभाग ने 7 सौ और अन्य मामलों पर सुनवाई करके निराकरण की संभावना है। नेशनल लोक अदालत के लिए आज दोपहर मीडिया को जानकारी देते हुए प्रथम अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश राजीव कुमार सिंह, द्वितीय अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्रीमती वंदना जैन, व्यवहार न्यायाधीश राघवेन्द्र श्रीवास्तव ने बार एसोसिएशन के अध्यक्ष रघुवंश पांडेय, सचिव पारस जैन, पूर्व अध्यक्ष अशोक शर्मा, अरविंद तिवारी, संतोष शर्मा उपस्थित थे।
श्री सिंह ने बताया कि नेशनल लोक अदालत में अपराधिक शमनीय प्रकरण, पराक्राम्य अधिनियम की धारा 138 के अंतर्गत प्रकरण, भूमि अधिग्रहण, विद्युत एवं जलकर बिल संबंधी प्रकरण, चोरी के मामलों को छोड़कर, सेवा मामले जो सेवानिवृत्त संबंधित हैं। न्यायालय में लंबित राजस्व प्रकरण, दीवानी मामले तथा अन्य समस्त प्रकरण के राजीनामा योग्य प्रीलिटिगेशन एवं न्यायालयों में लंबित प्रकरण रखे गए हैं।
श्रीमती जैन ने बताया कि इटारसी व्यवहार न्यायालय अंतर्गत तीन खंडपीठों का गठन किया है जिसमें प्रथम खंडपीठ में राजीव कुमार सिंह अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश इटारसी, द्वितीय खंडपीठ राघवेन्द्र श्रीवास्तव जेएमएफसी इटारसी एवं तृतीय खंडपीठ सीएओ नगर पालिका अधिकारी की रहेगी। इनमें एमएसीटी के 20, एचएम के 5, 138 के 10 एवं अन्य 50 प्रकरणों में भी नोटिस जारी किए हैं। न्यायाधीशों एवं अधिवक्ताओं ने अनुरोध किया है कि लोक अदालत के अवसर पर अपने प्रकरणों का निराकरण कर लाभान्वित हों एवं प्रेम सद्भाव बढ़ाने में सहयोग करें। उन्होंने कहा कि लोक अदालत में हारता कोई नहीं बल्कि सभी जीतते हैं।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
Narmadanchal

FREE
VIEW