Breaking News

item-thumbnail

भक्तिभाव से सोमनाथ ज्योतिर्लिंग का अभिषेक

0 27/07/2014

इटारसी. श्री दुर्गा नवग्रह मंंदिर में रविवार से द्वारिकाधीश महिला मंडल के तत्वावधान में पार्थिव द्वादश ज्योतिर्लिंगों का निर्माण और अभिषेक शुरु हो गया...

item-thumbnail

चेट्रीचंड्र महोत्सव का समापन

0 01/04/2014

इटारसी. सिंधी समाज का चेट्रीचंड्र महोत्सव का समापन मां नर्मदा में बहराणा साहब के विसर्जन के साथ हुआ. विसर्जन के पहले समाज के नागरिकों ने बहराणा साहब क...

item-thumbnail

कांवडयात्रा के स्वागत में उमडा भोपाल

0 05/08/2013

कांवडियों के रंग से भगवा हुआ भोपाल, 4 सौ से अधिक जगह स्वागत, कई टन फूल बरसे इटारसी. सोमवार को भोपाल ग्रामीण के गांव रानी पिपलया से कांवडय़ात्रा ने सुब...

item-thumbnail

चेट्रीचन्ड्र पर्व पर होंगे कई कार्यक्रम

0 17/03/2013

इटारसी. पूज्य पंचायत सिंधी समाज एवं झूलण सेवा समिति द्वारा भगवान झूलेलाल जन्मोत्सव चेट्रीचन्ड्र पर्व को धूमधाम से मनाने के लिए बैठक का आयोजन किया गया....

item-thumbnail

आदर्श ग्राम बिछुआ में रूद्रयज्ञ 27 से

0 15/01/2013

इटारसी. यहां से करीब 18 किलोमीटर दूर ग्राम बिछुआ में पिछले बारह वर्षों से निरंतर संचालित रूद्रयज्ञ इस वर्ष तेरहवे वर्ष में 17 जनवरी से होगा. आयोजन के ...

item-thumbnail

श्री दुर्गा चालीसा

0 19/08/2012

नमो नमो दुर्गे सुख करनी. नमो नमो अंबे दुख हरनी॥ निरंकार है ज्योति तुम्हारी. तिहूँ लोक फैली उजियारी॥ ससि ललाट मुख महा बिसाला. नेत्र लाल भृकुटी बिकराला॥...

item-thumbnail

श्री गायत्री चालीसा

0 19/08/2012

ह्रीं श्रीं क्लीं मेधा, प्रभा जीवन ज्योति प्रचण्ड. शांति क्रान्ति जागृति प्रगति रचना शक्ति अखण्ड॥ जगत जननि मंगल करनि गायत्री सुखधाम. प्रणवों सावित्री ...

item-thumbnail

श्री शिव चालीसा

0 19/08/2012

अज अनादि अविगत अलख, अकल अतुल अविकार. बंदौं शिव-पद-युग-कमल अमल अतीव उदार॥ आर्तिहरण सुखकरण शुभ भक्ति -मुक्ति -दातार. करौ अनुग्रह दीन लखि अपनो विरद विचार...

item-thumbnail

श्री हनुमान चालीसा

0 19/08/2012

दोहा श्रीगुरु चरन सरोज रज, निज मनु मुकुरु सुधारि. बरनउँ रघुबर बिमल जसु, जो दायकु फल चारि॥ बुद्धिहीन तनु जानिके, सुमिरौं पवन-कुमार. बल बुधि बिद्या देहु...

item-thumbnail

गणेश जी की आरती

0 18/08/2012

जय गणेश जय गणेश जय गणेश देवा.  माता जाकी पारवती पिता महादेवा ॥ एकदन्त दयावन्त चारभुजाधारी माथे पर तिलक सोहे मूसे की सवारी. पान चढ़े फल चढ़े और चढ़े मेवा ...

1 2 3 4
error: Content is protected !!