Breaking News

सेठानी घाट में आपदा प्रबंधन का डेमो हुआ

hbad (1)आपदा प्रबंधन की कार्यशाला का हुआ समापन
प्रबंधन में बेहतरीन कार्य करने वाले हुए सम्मानित
होशंगाबाद। विधानसभा अध्यक्ष डां. सीताशरण शर्मा के मुख्य आतिथ्य में सेठानी घाट में राज्य आपदा प्रबंधन की कार्यशाला का समापन हुआ। शुभारंभ से पूर्व इंदोर, ग्वालियर और जबलपुर की आपदा प्रबंधन टीम द्वारा आपदाओं के समय किए जा रहें बचाव कार्यों के डेमों का प्रदर्शन भी किया गया। दो दिवसीय कार्यशाला में आपदा से बचाव के अन्य सुझाव की रूपरेखा भी बनाई गई। सेठानी घाट में आयोजित राज्य स्तरीय आपदा प्रबंधन कार्यशाला राष्ट्रीय मोचन बल, होमगार्ड सिविल डिफेंस एवं संभागीय प्रशासन के संयुक्त तत्वधान में आयोजित की गई। इस अवसर पर 15 लाख रूपए की लागत के तीन वाटर स्कूटर जिले को मिले। जबलपुर की आपदा टीम ने ग्रुप कमांडर शालिवाहन के नेतृत्व में नदी में नाव पलट जाने पर किस तरह सवारियों की जान बचाई जाती हैं, उसका डेमों प्रदर्शन किया बताया गया कि ऐसी स्थिती में रेस्क्यू टीम सिमित साधनों का कैसा उपयोग करती हैं। विपरीत स्थितियों में भी लोगों की जान कैंसे बचाते हैं। लोगों को बचाने के बाद उनका प्राथमिक उपचार भी करते हैं। इंदोर की टीम ने आशोक चंद राय के नेतृत्व में डेमो का प्रदर्शन किया जिसमें बताया गया कि बाढ के दौरान घरेलू सामग्री का उपयोग कर कैंसे अपने प्राण बचाये जा सकते हैं। टीम ने बांस की खपच्ची, कूपे, पीपे, मटकी, थमोकोल द्वारा बचाव के तरीके बताये। बताया गया कि वर्षा रितु में होमगार्ड की टीम ने म.प्र. में 4 हजार लोगों की रक्षा की थी। ग्वालियर की टीम ने अपने डेमो में बताया कि यदि कोई स्नान घर पर खडा हैं और पैर फिसलने से डूब रहा है ओर उसे तैरना नही आता है तो टीम उन्हें कैंसे बचाती हैं। डेमो में बताया गया कि जिस व्यक्ति को तैरना नही आता उसे रेस्क्यू टीम उसका सिर पानी से ऊपर रखकर धीरे-धीरे किनारे लाकर बचाती हैं।
समापन अवसर पर आपदा प्रबंधन के क्षेत्र में बेहतर कार्य करने वाले व्यक्तियों को प्रशस्ती पत्र देकर सम्मानित किया गया, जिन्हें सम्मानित किया गया वे हें कलेक्टर श्री संकेत भोंडवे, डिवीजन कमांडर होमगार्ड ऊषा डामोर, फौजदार वर्मा, संतोष कुमार जाट,सुमन बिखोरिया, इंदर रूपनारायण, सैयद जावेद, शरद जैन, आर.के.एस.चौहान, शैलेन्द्र सहगल, अश्विनी सूद, ऋतु चौहान, अतुल सिंह, राजैश बौरासी, एस.एन.चौधरी, पवन सिंह, भूपेन्द्र सिंह मौर्य, भूपेन्द्र सिंह ठाकुर, नरेन्द्र मोहन गुप्त, एस.एल.मेरावी, कैलाश दूबे, जिला सैनिक श्री राजू, भीम, यशवंत, जितेन्द्र, राजेन्द्र, रामनारायण, सिविल डिफेंस के वालिटियर्स को भी सम्मान स्वरूप प्रशंसा पत्र दिये गये। पुलिस अधीक्षक श्री आशुतोष प्रताप सिंह, श्री अभिजीत अग्रवाल, गणेशशंकर मिश्र, सौरभ सुमन, प्रशांत सिंह, टीना यादव और ग्राम रक्षा समिति के सदस्यों को भी प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। लायंस क्लब के श्री डी.एस.दांगी, अनुराग जैन, वरिष्ठ नागरिक मंच से डॉ.मालवीय को भी सम्मानित किया गया। समापन अवसर पर उपस्थित लोगो को संबोधित करते हुए विधानसभा अध्यक्ष डॉ.सीताशरण शर्मा ने कहा कि हमे बीमारी आने से पूर्व ही उपचार कर लेना चाहिए ठीक वैसे ही आपदा आने से पूर्व उसकी तैयारी सुनिश्चित कर लेनी चाहिए। प्राकृतिक आपदा बताकर नही आती है लेकिन फिर भी हम उसका बचाव कर सकते हैं।
महानिदेशक होमगार्ड श्री मैथलीशरण गुप्त ने बताया कि मध्यप्रदेश के 51 जिलो को सिविल डिफेंस जिला घोषित किया गया है। और सभी जिलो में आपरेशन सेंटर स्थापित किये गये हैं। सभी जिलो के लिए लेवल वन का दूरभाष नंबर 1079 दिया गया है इसमें आपदा की या कोई भी महत्वपूर्ण सूचना देने पर कोई शुल्क नही लगता है। श्री गुप्त ने बताया कि आपदा प्रबंधन के लिए जिला स्तर पर होमगार्ड का दल एवं राज्य एवं राष्ट्र स्तर पर आपदा आने पर एसडीआरएफ की टीम बचाव कार्य करती है। उन्होंने कहा कि सबसे बड़ी भूमिका समुदाय की होती है। यदि समुदाय प्रशिक्षित हो तो आपदा का प्रभाव कम किया जा सकता है। उन्होंने होशंगाबाद जिले में आपदा प्रबंधन प्रशिक्षण सेंटर स्थापित करने की बात कही। इसके पूर्व माँ सरस्वती के चित्र पर दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया इस अवसर पर अतिथियों ने आपदा प्रबंधन की पुस्तक का विमोचन किया तथा सेठानीघाट में लगे आपदा प्रबंधन के स्टॉलो का निरीक्षण भी किया। अतिरिक्त महानिदेशक होमगार्ड श्री एस.के.पाण्डे ने बताया कि प्राकृतिक आपदाओ से निपटने में हम सक्षम तरीके से कार्य करते हैं। हमारी कौशिश है कि संभाग स्तरीय कार्यशाला में हम लोगो को प्रशिक्षित करे। श्री पांडे ने बताया कि डेमो की रूपरेखा तैयार की जाएगी। लोगो को इतना प्रशिक्षित कर दिया जाएगा कि हमारे आने से पूर्व वे बचाव कार्य कर ले उन्हें हमारी सहायता की आवश्यकता ही ना रहे हमारे पास ऐसी टीम हो जिस पर हम गर्व कर सके। इसके पूर्व पुलिस महानिरीक्षक श्री सतीश सक्सेना ने आपदा प्रबंधन के समय समुचित साधनो के उपयोग, बचाव की तैयारी आदि पर प्रकाश डाला। विधानसभा अध्यक्ष डॉ.सीताशरण शर्मा ने सभी उपस्थित लोगो को सिविल डिफेंस की शपथ दिलाई। समापन अवसर पर जिला पंचायत अध्यक्ष श्री कुशल पटेल, सोहागपुर विधायक श्री विजयपाल सिंह, नगर पालिका अध्यक्ष श्री अखिलेश खंडेलवाल, जनपद पंचायत अध्यक्ष श्रीमती संगीता सौलंकी, पूर्व विधायक श्री गिरजाशंकर शर्मा, केसला के जनपद अध्यक्ष श्री गणपत उइके, बैतूल कलेक्टर श्री ज्ञानेश्वर बी पाटिल, सिविल डिफेंस के सदस्यगण, ग्राम एवं नगर रक्षा समिति के सदस्य, गणमान्य नागरिक, जनप्रतिनिधिगण, मिडिया के प्रतिनिधिगण, स्कूली बच्चे, महाविद्यालय के छात्रगण एवं शासकीय अधिकारी एवं कर्मचारीगण मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!