श्रीराम मंदिर पथरोटा में श्रीराम कथा प्रारंभ

श्रीराम मंदिर पथरोटा में श्रीराम कथा प्रारंभ

इटारसी। संसार में जो व्यक्ति भगवान शिव के समान उदार होता है, जीवन में सफलता उसे ही प्राप्त होती है। हर यानी शिव ही हरि रूपी श्रीराम के सबसे बड़े उपासक हैं। उनकी आदर्शपूर्ण भक्ति से ही प्रभु श्रीराम की कृपा प्राप्त होती है। उक्त उद्गार प्रयागराज इलाहबाद के आचार्य पं. अतुल द्विवेदी ने ग्राम पथरोटा में व्यक्त किये।
ग्राम के श्रीराम मंदिर प्रांगण में आयोजित श्रीराम कथा समारोह के प्रथम दिन शिव पार्वती प्रसंग का वर्णन करने के साथ ही उन्होंने कहा कि भगवान शिव की प्रेरणा से ही महर्षि बाल्मिक ने भगवान श्रीराम के मर्यादामय जीवन का ज्ञानात्मक वर्णन श्री रामायण में किया और गोस्वामी तुलसीदास जी ने संस्कृत में लिखी रामायण को अवधि भाषा में लिखकर हम सबके लिए सरल स्वरूप में श्रीरामचरित मानस की रचना की। श्रीराम मंदिर समिति पथरोटा द्वारा आयोजित इस संगीतमय श्रीरामकथा समारोह के प्रारंभ में कलश यात्रा हनुमान मंदिर पथरोटा थाना से निकाली जो गांव का भ्रमण करते हुए कार्यक्रम स्थल श्रीराम मंदिर प्रांगण में संपन्न हुई। कलश यात्रा का जगह-जगह स्वागत हुआ। श्रीराम कथा प्रतिदिन दोपहर 1 बजे से 5 बजे तक कही जाएगी।

CATEGORIES
TAGS
Share This

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: