Breaking News

जल्द ही अपग्रेड होगा ट्रेनिंग सेंटर : डॉ. शर्मा

जल्द ही अपग्रेड होगा ट्रेनिंग सेंटर : डॉ. शर्मा

एएनएम ट्रेनिंग सेंटर के नए भवन और बर्न यूनिट का उद्घाटन
इटारसी। डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी शासकीय अस्पताल में एएनएम ट्रेनिंग सेंटर जल्द ही अपग्रेड होकर जनरल नर्सिंग ट्रेनिंग सेंटर होगा।। यह आश्वासन आज मप्र विधानसभा के अध्यक्ष डॉ.सीतासरन शर्मा ने सोमवार को दोपहर अस्पताल में एएनएम ट्रेनिंग सेंटर के नए भवन का उद्घाटन, बर्न यूनिट का शुभारंभ और स्किल लैब का निरीक्षण के बाद एक समारोह में कही।
लगभग 90 लाख की लागत से निर्मित भवन में सर्वसुविधायुक्त क्लास रूम के अलावा प्रथम तल पर आधुनिक तकनीक से सुसज्जित स्किल लैब भी बनायी गई है। इस लैब के माध्यम से ट्रेनिंग के दौरान एएनएम को मेडिकल क्षेत्र में हो रहे बदलाव और अनुसंधान पर आधारित तकनीक सिखाई जाएगी। लैब निरीक्षण के बाद संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि विधानसभा अध्यक्ष डॉ. शर्मा ने कहा कि मेडिकल क क्षेत्र में अनुसंधान बढ़ रहे हैं तो साधन भी बढ़े हैं। नई लैब से नई छात्राओं को बेहतर तरीके से समझने को मिलेगा।

नेताओं को सीख लेना चाहिए
विस अध्यक्ष डॉ. शर्मा ने अपने संबोधन के दौरान नर्सेस के काम को चुनौतीपूर्ण बताते हुए कहा कि इस तरह की ट्रेनिंग के अलावा व्यवहारिक प्रशिक्षण भी जरूरी है, क्योंकि नर्सेस का काम काफी कठिन और चुनौतियों भरा होता है। मरीजों और उनके परिजनों के कई बार दुव्र्यहार भी सहन करके उन्हीं के हित की सोचना बड़ा कठिन काम है। डॉ. शर्मा ने कहा कि राजनीति के लोगों को भी इनसे सीख लेना चाहिए। काफी कठिन परिस्थिति के बावजूद ये किसी का नुकसान करना नहीं सोचती हैं और केवल भला ही करती हैं। डॉ. शर्मा ने कहा कि ट्रेनिंग सेंटर तो आधुनिक हो गया। अब इन छात्राओं के रहने का स्थान और भोजन का स्थान भी बेहतर होना चाहिए।
कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए नगर पालिका परिषद की अध्यक्ष श्रीमती सुधा राजेन्द्र अग्रवाल ने अस्पताल प्रबंधन और ट्रेनिंग सेंटर प्राचार्य और स्टाफ को नई सुविधा की बधाई देते हुए कहा कि विस अध्यक्ष डॉ. शर्मा के मार्गदर्शन और नेतृत्व में शहर में तेजी से विकास कार्य हो रहे हैं और अस्पताल को मिली यह सुविधा भी इसी का हिस्सा है। उन्होंने सुविधा दिलाने पर डॉ. शर्मा का आभार भी व्यक्त किया। जपाईगो के स्टेट मैनेज़र हेमांग शाह ने कहा कि ट्रेनिंग सेंटर का अपगे्रडेशन केन्द्र और राज्य सरकार की जननी सुरक्षा योजना का ही एक हिस्सा है। पहले संस्थागत प्रसव केवल 20 फीसदी होते थे, जो अब बढ़कर 80 प्रतिशत हो गए हैं। जाहिर है, जच्चा-बच्चा को कष्टों से बचाने सुविधाएं भी बढऩी चाहिए। स्किल लैब इसीलिए तैयार की गई है, ऐसी स्किल लैब और भी अस्पतालों में तैयार की जानी है।
it031016-2ट्रेनिंग सेंटर और स्किल लैब की जानकारी देते हुए प्राचार्य श्रीमती वेद नैयर ने कहा कि यह करीब 68 वर्ष पुराना है। सन् 1960 में इसकी शुरुआत हुई थी। पहले यह जीएनएम ट्रेनिंग सेंटर था फिर एएनएम हो गया। उन्होंने बताया कि साठ सीटर इस सेंटर का पिछले पंद्रह वर्षों से ही विकास हो पा रहा है, उन्होंने बताया कि स्किल लैब के उपकरण ही 17 लाख रुपए के हैं जो शासन से मिली राशि से क्रय किए हैं। स्वागत भाषण सिविल अस्पताल के अधीक्षक डॉ. एके शिवानी ने दिया। कार्यक्रम का संचालन जयकिशोर चौधरी ने तथा आभार भरत वर्मा ने प्रकट किया।
इस अवसर पर एसडीएम सुश्री टीना यादव, नगर पालिका उपाध्यक्ष अरुण चौधरी, विधायक प्रतिनिधि भरत वर्मा, कल्पेश अग्रवाल, सांसद प्रतिनिधि दीपक अग्रवाल, जिला भाजपा उपाध्यक्ष संदेश पुरोहित, पार्षद जसबीर सिंघ छाबड़ा, आईएमए के अध्यक्ष डॉ. आरबी अग्रवाल, नगर भाजपा अध्यक्ष डॉ. नीरज जैन, झपाईगो संस्था के स्टेट मैनेज़र हेमांग शाह, डॉ. यूके शुक्ला, ट्रेनिंग सेंटर की प्राचार्य श्रीमती वेद नैयर सहित गणमान्य नागरिक, ट्रेनिंग सेंटर की छात्राएं और अस्पताल के डाक्टर्स, स्टाफ मौजूद था।

error: Content is protected !!