सुबह 6 से 9 तक ही मिलेंगे सब्जी, दूध, किराना

सुबह 6 से 9 तक ही मिलेंगे सब्जी, दूध, किराना

– दवा की दुकानें सारा दिन खुली रहेंगी
– होटल, रेस्टॉरेंट व अन्य सब बंद रहेंगे
– लोगों को घर से बाहर नहीं निकलना है
इटारसी। कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के उद्देश्य से जिले में धारा 144 लागू कर दी गई है। लोगों से कहा गया है कि वे अपने घरों में रहें और अनावश्यक रूप से बाहन न निकलें। हो सकता है कि जो लोग नहीं मान रहे, उनके लिए प्रशासन को सख्ती बरतनी पड़े। आप हवालात में रहें, इससे पहले घर में रहने का निश्चय कर लें। खुद भी सुरक्षित रहें और लोगों को भी सुरक्षित रखें। रविवार को जो जनता कफ्र्यू लगाया गया था, उसे आज आगे बढ़ा दिया है। केवल अतिआवश्यक सेवाएं, सब्जी, दूध, किराना को सुबह 6 से 9 बजे तक खोलने की अनुमति दी गई है, दवा की दुकानों को दिनभर खुलने की अनुमति है।
प्रशासन का अमला सोमवार को सुबह बाजार में पहुंचा और धारा 144 के दौरान शहर की स्थिति का अध्ययन किया। एसडीएम हरेन्द्रनारायण ने कहा है कि जनता कफ्र्यू को जारी रखते हुए केवल दूध, सब्जी, किराना और दवा की दुकानों को खोलने की सुबह 6 से 9 बजे तक अनुमति रहेगी। होटल, रेस्टॉरेंट सहित शेष सारी दुकानें 31 मार्च तक बंद रखी जाएंगी। प्रशासन ने व्यापारियों को आज सुबह ही कह दिया है कि वे प्रशासन के निर्देशों का पालन करें। जनता को कहा गया है कि वे घरों में रहें। कोरोना सबसे तेज फैलने वाला वायरस है। कहीं ऐसा न हो कि आपको जब तक पता चले, आप बहुत लोगों को संक्रमित कर चुके हों। उन्होंने कहा कि जिले में धारा 144 लागू है और सारी दुकानें बंद करने के आदेश हैं।
किराना दुकान संचालकों के संगठन से कर्मवीर गांधी ने व्यापारियों और ग्राहकों के लिए एक अनुरोध जारी किया है। इसके अनुसार प्रशासन को सहयोग करने के लिए किराना दुकानें सुबह 6 से 9 के बीच ही खोली जाएंगी। श्री गांधी ने ग्राहकों से भी अनुरोध किया है कि वे समय का ध्यान रखें और घर से केवल एक व्यक्ति आए, भीड़ लेकर न आएं। जो भी किराना लेने आये, वह मास्क लगाया हो, इसका खास ख्याल रखें।
जांच की सुविधा नहीं है
शहर सहित जिले में कहीं भी कोरोना जांच की सुविधा नहीं है। जहां तक नीलम वालों की पुरानी गली में संदिग्ध की बात है तो उनकी जांच में क्लीनचिट इसलिए मिली कि उनको वहां से आये एक माह का वक्त हो गया है। इस अवधि में उनको कोई प्रॉब्लम नहीं हुई है। उन्होंने बताया कि शहर में अब तक कुल 23 लोगों को चिह्नित किया गया है और 28 दिन तक के लिए हमारा स्वास्थ्य विभाग सभी की मॉनिटरिंग कर रहा है।
मॉस्क प्रोटोकाल का पालन
एसडीओ राजस्व हरेन्द्रनारायण स्वयं मास्क लगाये नहीं हैं। ना ही उनके साथ किसी अधिकारी ने मास्क लगाया है? ऐसा क्यों? इस सवाल पर एसडीओ रेवेन्यू ने कहा कि हम लोग मॉस्क प्रोटोकाल का पालन करते हैं। स्वस्थ व्यक्ति को मास्क नहीं लगाना है। हम और अन्य जो स्वस्थ है, मॉस्क लगाकर घूमेंगे तो फिर उन लोगों को ये चीजें नहीं मिलेंगी जिनको इनकी वास्तव में जरूरत है। इसी कारण से इन चीजों की कमी हो गयी है।

राहगीरों को मॉस्क बांटे
सेवा भारती मध्य भारत प्रांत द्वारा संचालित आशा महेंद्र शुक्ला जनजाति कन्या छात्रावास समिति इटारसी द्वारा आज कर्मचारियों स्वास्थ्य कर्मियों, सफाई कर्मी एवं राहगीरों को मास्क वितरित किए। सेवा भारती मध्य प्रांत द्वारा आदिवासी बालिकाओं के लिए आशा महेंद्र शुक्ला कन्या छात्रावास अभी हाल फिलहाल मालवीयगंज में सरस्वती शिशु मंदिर के सामने वाले ब्लॉक में खोला गया है। नया छात्रावास ग्राम दर्पण बहुत तेजी के साथ बन रहा है। सेवा भारती मध्य प्रांत की ओर से स्वयंसेवक मनोज राय एवं उनके साथियों ने शहर में अनेक स्थानों पर रेलवे स्टेशन पर सफाई कामगारों को एवं जरूरतमंदों को मॉस्क वितरित किए। सेवा भारती की यह पहल निश्चित ही सराहनीय है। सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि यह मॉस्क सेवा भारती ने स्वयं ने मेडिकेटेड बनवाए हैं। सेवा भारती के कार्य की जगह-जगह प्रशंसा हो रही है। नर्मदापुरम संभाग राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के विभाग प्रचारक सुरेंद्र सिंह सोलंकी ने कहा कि सेवा भारती राष्ट्रीय आपदा के समय सदैव सहयोग करती है।

CATEGORIES
Share This

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
%d bloggers like this: