Breaking News

2-2 गांव का चयन कर किसानों की आय दोगुनी करें

2-2 गांव का चयन कर किसानों की आय दोगुनी करें

होशंगाबाद। कमिश्नर उमाकांत उमराव ने संभागीय किसान कल्याण एवं कृषि विभाग, उद्यानिकी विभाग, मत्स्य विभाग, सहकारी विभाग, रेशम विभाग के अधिकारियों की संभागीय समीक्षा बैठक में संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे बैतूल, हरदा एवं होशंगाबाद के सभी ब्लॉक में 2-2 गांव का चयन कर किसानों की आमदनी दोगुनी करने का प्रयास करें। चयनित गांव में किसानों को कृषि विभाग, उद्यानिकी, रेशम, मत्स्य एवं सहकारी विभाग की योजनाओं का लाभ किसानों को दिलाना सुनिश्चित करें।
कमिश्रर ने कहा, अधिकारी कृषि अभ्यास का मॉडल एवं हर खेत का मॉडल इन ग्रामों में बनाएं, किसानों को ऋण उपलब्ध कराना, व्यावसायिक एवं उन्नत खेती के लिए प्रशिक्षण के अलावा किसानों को भ्रमण भी कराया जाए। श्री उमराव ने गांव के चिन्हित किसानों एवं संबंधित अधिकारियों का प्रशिक्षण कराने के लिए निर्देश दिए। बताया गया कि बैतूल मे 10 से 12, हरदा में 6 एवं होशंगाबाद में 10 गांव का चयन मॉडल गांव के रूप में किया जाएगा और इन गांव में सभी आधारभूत संरचनाओं का विकास किया जाएगा। कमिश्नर ने कहा कि यदि हम आज कृषि की ओर देखे तो पता चलेगा कि हमारी कृषि की वेराइटी कम हो रही है, प्रोडेक्शन कास्ट बढ़ रहा है तथा रिस्क कल्चर भी बढ़ रहा है।
कमिश्नर ने सभी संबंधित अधिकारियों को जल संकट की ज्वलंत समस्या से निपटने के लिए अधिक से अधिक खेत तालाब का निर्माण करने के निर्देश दिए। उपसंचालक उद्यानिकी बैतूल ने बताया कि उनके विभाग में बैतूल में काजू, सीताफल, मुनगा, एलोवेरा, सेवंती, मशरूम एवं मधुमक्खी पालन हेतु एरिया चिन्हित कर लिए हैं। आगामी 5 वर्षों में चिन्हित एरिया में इन फलदार पौधों का उत्पादन किया जाएगा। बैठक में संयुक्त संचालक कृषि बीएल बिलैया, संयुक्त उपायुक्त विकास राजेन्द्र सिंह सहित संभाग के सभी संबंधित अधिकारी मौजूद थे।

error: Content is protected !!