Breaking News

नपा के खिलाफ कांग्रेस ने निकाली जनआक्रोश रैली

नपा के खिलाफ कांग्रेस ने निकाली जनआक्रोश रैली

इटारसी। कांग्रेस की रैली में आज विधानसभा अध्यक्ष और विधायक प्रतिनिधि के खिलाफ जमकर नारेबाजी हुई। कांग्रेस ने आज नगर पालिका द्वारा शहर में कराए कार्यों में भ्रष्टाचार के आरोप लगाते हुए जन आक्रोश रैली निकाली। रैली रेस्ट हाउस परिसर से सुबह करीब 11 बजे प्रारंभ हुई। रैली में बड़ी संख्या में कांग्रेसियों ने नारेबाजी करते हुए नगर पालिका दफ्तर की तरफ कूच किया। रैली की शक्ल में आए कांग्रेसियों ने देशबंधुपुरा में विधानसभा अध्यक्ष डॉ.सीतासरन शर्मा के निवास के सामने भी नारेबाजी की। कांग्रेसियों का आरोप है कि डॉ. शर्मा के संरक्षण में नपा में भ्रष्टाचार हो रहा है।

नगर पालिका कार्यालय के सामने कांग्रेस ने धरना देकर सभा की। सभा को अनेक कांगे्रसियों ने संबोधित कर नगर पालिका द्वारा शहर में कराए जा रहे निर्माण और विकास कार्यों में भ्रष्टाचार के आरोप लगाए। कच्ची दुकानों को पक्की करने के मामले में कमीशनबाजी, मनमानी जैसे शब्दों से कांग्रेस ने भाजपा की नगर पालिका पर कई गंभीर आरोप लगाए। धरने में पूर्व विधायक अंबिका प्रसाद शुक्ल, पूर्व नपाध्यक्ष अनिल अवस्थी, नीलम गांधी, मोहन झलिया, सम्राट तिवारी, कन्हैया गोस्वामी, अजय शुक्ला, लाली परमजीत सिंघ सलूजा, माधवी मिश्रा सहित अनेक कांग्रेसी मौजूद थे। इस दौरान कांग्रेस ने एसडीएम आरएस बघेल और प्रभारी सीएमओ संजय दीक्षित को एक ज्ञापन सौंपकर अनियमितताओं की जांच कराने की मांग की। संचालन हिमांशु बाबू अग्रवाल ने और आभार कैलाश नवलानी ने व्यक्त किया।

आंदोलन में नहीं पहुंचे कुछ नेता
कांग्रेस के इस आंदोलन में कुछ ऐसे नेता जो सोशल मीडिया पर सक्रिय रहते हैं, नहीं पहुंचे। प्रदेश कांग्रेस कमेटी के मीडिया सेल के अध्यक्ष माणक अग्रवाल के समर्थकों में से कुछ ही आंदोलन में आए तो कुछ अन्य बड़े पदों पर रहे और वर्तमान में पदाधिकारी भी नहीं पहुंचे। पूरे आंदोलन में पूर्व नपाध्यक्ष रवि जैसवाल, उनके भतीजे और वर्तमान में युवक कांग्रेस के विधानसभा क्षेत्र अध्यक्ष मयूर जैसवाल, कांग्रेस मीडिया पैनलिस्ट राजकुमार उपाध्याय केलू, उनके भाई अमोल उपाध्याय, सेवादल के शेष मेहरा, युवक कांग्रेस के अर्जुन भोला नहीं पहुंचे। कांग्रेस के एकमात्र पार्षद अरविंद चंद्रवंशी के अलावा दूसरा पार्षद नहीं पहुंचा। दो पार्षद पति जरूर पहुंचे थे।
कांग्रेस की जन आक्रोश रैली में सुरक्षा के लिहाज से पुलिस और प्रशासन ने खासा बंदोवस्त किया था। सुबह स्वयं एसपी अरविंद सक्सेना नगरपालिका कार्यालय के सामने व्यवस्था देखने पहुंचे थे। नपा का एक गेट बैरीकेट्स से पूरी तरह से बंद कर दिया गया था। बैरीकेटिंग ऐसी थी कि कोई नपा में नहीं घुस सकता था। रेस्ट हाउस से नपा तक रास्ते में जगह-जगह पुलिस बल तैनात था। एसडीओपी अनिल शर्मा, टीआई विक्रम रजक ने पूरी कमान संभाल रखी थी तो एसडीएम आरएस बघेल, तहसीलदार रितु भार्गव, नायब तहसीलदार एनपी शर्मा और नपा के अन्य अधिकारी भी मौके पर मौजूद थे।
सभा में संबोधित करते पूर्व मंत्री विजय दुबे काकूभाई ने कहा, हमारे विधायक काल में हमारी भी नगर पालिका थी, लेकिन हमारा कोई प्रतिनिधि नहीं था। यहां तो नगर पालिका अध्यक्ष सुधा अग्रवाल के नाम पर विधायक प्रतिनिधि कल्पेश अग्रवाल के आदेश चल रहे हैं। वे ही सारे फैसले करते हैं
जसपाल सिंह पाली भाटिया ने कहा, नपा में जिस फाइल पर हाथ रखो, भ्रष्टाचार निकलेगा। मैं अधिकारी-कर्मचारियों से कहना चाहता हूं, आपकी नौकरी है, अपना भविष्य खराब मत करो, अपने बच्चों का ख्याल रखो, इनके कहने पर ऐसा कोई काम न करो।


नगर अध्यक्ष पंकज राठौर ने कहा कि जल आवर्धन योजना में अतिरिक्त पैसा लगने के बावजूद अब तक यह योजना पूरी नहीं हुई है और शहर की जनता प्यास से व्याकुल है। बस स्टैंड निर्माण में फर्जीवाड़ा किया जा रहा है। वहां की जमीन अभी नपा के आधिपत्य में आयी नहीं है और लाखों रुपए की बाउंड्रीवाल बना दी। उस जमीन से पेड़ काट लिए। इन सारी चीजों पर पुलिस में एफआईआर दर्ज होना चाहिए। जिला पंचायत अध्यक्ष विजय चौधरी बाबू ने कहा कि 20 जुलाई को जल आवर्धन योजना का लोकार्पण करा लिया गया था। दूसरी जुलाई आ रही है, अब तक पानी नहीं आया। न कोचिंग हब बना, ना ऑडिटोरियम पूरा हुआ। पार्क, ऑडिटोरियम, जलावर्धन जैसे जो काम आप अपने खाते में गिना रहे हैं, उसके लिए पैसा भी सुरेश पचौरी ने ही दिलाया है।

डॉ. शर्मा देंगे हर आरोप का जवाब
कांग्रेस के आंदोलन के दौरान लगाए सारे आरोपों का जल्द ही एक प्रेस वार्ता करके सिलसिलेवार जवाब दिया जाएगा। जो भी आरोप लगाए हैं, वे झूठे हैं। इनके नेता राहुल गांधी खुद झूठ बोलते हैं। हमारा तो सारा मामला खुला है। इनके पास कहने को कुछ नहीं है। इनको जनहित नहीं बल्कि सत्ता की चाह है। हम जल्द ही सारी बातों का जवाब देंगे।
डॉ. सीतासरन शर्मा, विस अध्यक्ष

विकास गले नहीं उतर रहा
कांग्रेस ने चार वर्षों में एक भी जनहित का काम नहीं किया। हमने इन वर्षों में इतने सारे काम करके शहर की पहचान बनायी है। ये सारे विकास कार्य कांग्रेस के गले नहीं उतर रहे हैं। आम जनता नगर पालिका के काम से खुश है, केवल कांग्रेस को ही सत्ता से दूर रहने की तकलीफ है। जो आरोप लगाए हैं, वे सारे मनगढ़त हैं।
कल्पेश अग्रवाल, विधायक प्रतिनिधि

error: Content is protected !!