Breaking News

विवाद : पट्टा किसी के नाम, दुकान कोई ओर बना रहा था

विवाद : पट्टा किसी के नाम, दुकान कोई ओर बना रहा था

इटारसी। दुर्गा चौक में कुए के पास एक दुकान पर हो रहे निर्माण कार्य के दौरान विवाद हो गया। दरअसल, यहां जो लोग निर्माण कर रहे थे, उस दुकान का पट्टा किसी ओर के नाम है और बताते हैं कि नपा ने इस जगह पर किसी ओर को दुकान निर्माण की अनुमति दे दी। आज जब पट्टा मालिक को जानकारी मिली तो उन्होंने जाकर निर्माण कार्य रोकने की कोशिश की तो विवाद हो गया। मामला जब सीएमओ के पास पहुंचा तो सीएमओ अक्षत बुंदेला ने फिलहाल दुकान निर्माण रोक दिया है साथ ही कहा है कि जांच के बाद ही इसमें आगे कार्यवाही की जाएगी।
मिली जानकारी के अनुसार दुर्गा चौक में नंदलाल पिता जीवनदास के नाम 1968 से पट्टा है। यह पट्टा शीट नंबर 14 प्लाट नंबर 66 का है। पट्टा उत्तर-दक्षिण में 15 फीट और पूर्व-पश्चिम में 10 फीट है। दुकान मालिक सुमित्रा देवी पोपली ने बताया कि हमारे प्लॉट पर राजू चौरसिया को दुकान बनाने की अनुमति नगर पालिका द्वारा दे दी गई है जबकि हम किराया वर्षों से हमारा परिवार दे रहा है।
शुक्रवार को दोपहर जब पोपली परिवार को इस बात की जानकारी मिली तो वह अपने परिवार के साथ मौके पर पहुंचे और नाराजी जताते हुए काम रुकवाया। पोपली ने कहा कि इस प्लॉट के लीगल दस्तावेज उनके पास उपलब्ध हैं। उन्होंने कहा कि वह इसकी शिकायत कलेक्टर और एसडीएम से करेंगी। यदि हमारी बात को नहीं माना गया तो जयस्तंभ पर पूरा परिवार धरना प्रदर्शन करेगा।

यह हुआ था निर्णय
कुछ दिन पहले रेस्ट हाउस में एक बैठक हुई थी। इस बैठक में इस क्षेत्र के दुकानदारों को जो जहां है, वहां पक्की दुकानें बनाने के मौखिक निर्देश दिए थे। बैठक में विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सीतासरन शर्मा, विधायक प्रतिनिधि कल्पेश अग्रवाल एवं व्यापारी मौजूद थे। इस निर्देश पर यहां सभी दुकानदार अपनी दुकानें बना रहे हैं। सुमित्रा देवी पोपली और उनका परिवार भी यहां दुकान बनाने की तैयारी कर रहे थे इसी बीच उनके प्लॉट के सामने काबिज राजू चौरसिया को नगर पालिका ने पोपली के प्लॉट पर दुकान बनाने की अनुमति दे दी है। चौरसिया सुमित्रा देवी के प्लॉट पर अपनी दुकान बनाने लगे थे। पोपली ने बताया कि राजू चौरसिया के पिता ललता चौरसिया का सामने छोटा टप था उसका पट्टा भी उनके पास है।

इनका कहना है…!
काम रुकवा दिया गया है। अब जांच करा लेंगे जिसका पट्टा होगा उसे ही दुकान बनाने की अनुमति दी जाएगी।
अक्षत बुंदेला, सीएमओ इटारसी

error: Content is protected !!