Breaking News

किसान खेतों की मिट्टी का परीक्षण कराए

होशंगाबाद. जिले के किसान अपने खेतो की मिट्टी का परीक्षण कराए. यह अपील जिले के किसानो से कृषि विभाग द्वारा की गई है. बताया गया है कि बेहतर फसल उत्पादन एवं मृदा स्वास्थ्य हेतु मिट्टी परीक्षण कराना चाहिए एवं मिट्टी परीक्षण उपरांत बताए गये उपायो का उपयोग करने से कृषक आगामी समय में अधिक उत्पादन प्राप्त कर सकते हैं. संयुक्त संचालक कृषि ने किसानों को अवगत कराया है कि मृदा नमूना लेने का सर्वोत्तम समय अप्रैल से मई माह तक है इस दौरान प्रत्येक किसान को अपने खेतो की मिट्टी का परीक्षण अवश्य कराना चाहिए. मृदा नमूना लेने हेतु खेत से जिगजाग विधि से 10 से 15 विभिन्न स्थानों से नमूना एकत्रित करना चाहिए. इससे पूर्व चुने गये स्थानों पर से घासफूस, कुड़ा करकट आदि हटा देना चाहिए तदुपरांत इन स्थानों पर 15 सेन्टीमीटर गहर व्ही आकार का गहरा गढ्डा खोदे तथा दो सेंटीमीटर मोटी तह निकाल ले तथा खेत की इस मिट्टी को ट्रे अथवा वाल्टी में अच्छे से मिलाए और इस मिट्टी को चार बराबर भागों में बांटे. इन चार ढेरो में से कोई भी आमने सामने के भाग को हटा दें तथा शेष दो भाग को आपस में मिलाकर पुन: यह किया तब तक अपनाए जब तक आधा किलो मिट्टी शेष न रह जाए, इस मिट्टी के नमूने को प्लास्टिक के थेले में रखकर कपड़े की थेली में डाले दें साथ ही नमूना पत्रक भरकर भी इस थैली में डाले तथा परीक्षण हेतु प्रयोगशाला भेंजे. विस्तृत जानकारी के लिए किसान अपने क्षेत्र के ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी या कार्यालय विकासखंड अधिकारी से संपर्क करे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!