श्री राम चरित्र मानस महायज्ञ और श्रीरामकथा 16 से

होशंगाबाद। निरंतर 13 वर्षों की तरह इस वर्ष भी मां नर्मदा के दक्षिण तट के ग्राम खरखडी टिगरिया में श्रीराम चरित्र मानस महायज्ञ और रामकथा का दस दिवसीय आयोजन कि या जा रहा है। मां नर्मदा के अनन्य भक्त व समाजसेवी संत स्वामी श्रीब्रम्हानंद उदासीन महाराज की सद्प्रेरणा व सानिध्य में निरंतर 14वें वर्ष में यह आयोजन नर्मदा तट के पटेघाट पर होगा। जिसमें पूरे क्षेत्र के दर्जनों गांवों के हजारों श्रद्धालु शामिल होते हैं। यहां पर पूरे चातुर्मास में अखंड रामचरित मानस के समापन अवसर पर श्रीरामचरित मानस महायज्ञ का आयोजन पं हरिओम दुबे के आचार्यत्व में किया जाएगा। आयोजन समिति से जुड़े बलराम शर्मा ने बताया कि इस मौके पर कथा व्यास के रुप में विद्यावाचस्पति आचार्य डॉ रामाधार उपाध्याय प्रतिदिन दोपहर 1 से सायं 4बजे तक मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्री राम के गुणानुवाद पर कथा का वाचन करेंगे। यज्ञशाला में आहुतियां प्रतिदिन प्रात: 7 से दोपहर 12 बजे तक डाली जाएंगी। उन्होंने बताया कि 16 नवंबर को दोपहर 12 बजे से कलश यात्रा निकाली जाएगी जो बस्ती के प्रमुख मार्ग से होते हुए कथा स्थल पर पहुंचेगी। कथा 17 नवंबर से प्रारंभ होगी। रामकथा का समापन और महायज्ञ की पूर्णाहुति 25 नवंबर को होगी। समापन अवसर पर भंडारे का आयोजन किया जाएगा। आयोजन समिति के सदस्यों और ग्रामवासियों ने इस धार्मिक अनुष्ठान में शामिल होकर पुण्य लाभ लेने की अपील की है।

CATEGORIES
TAGS
Share This
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: