हितग्राहियों के बैंक खाते में ट्रांसफर किये 589 करोड़

हितग्राहियों के बैंक खाते में ट्रांसफर किये 589 करोड़

भोपाल। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने आज मंत्रालय से सिंगल क्लिक के माध्यम से विभिन्न योजनाओं के हितग्राहियों के बैंक खाते में कुल 589 करोड़ 3 लाख 8 हजार रूपए की राशि ऑनलाइन ट्रांसफर की। यह राशि एक अप्रैल को हितग्राहियों के खातों में प्राप्त हो जाएगी। कोरोना संकट के मौजूदा दौर में यह बड़ी राहत है।
कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए प्रदेश में लॉकडाउन की स्थिति है। इसके चलते शालाओं में पका हुआ भोजन दिया जाना संभव नहीं है। ऐसे में शासन ने निर्णय लेते हुए आठवीं तक के बच्चों की मध्यान्ह भोजन की राशि उनके अभिभावकों के बैंक खातों में अंतरित कर दी है। इसी प्रकार रसोईयों को उनके मानदेय की राशि भी शासन द्वारा सीधे उनके खाते में डाल दी गई है। समेकित छात्रवृत्ति योजना की राशि भी विद्यार्थियों के खाते में अंतरित की गई है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने तीनों योजनाओं की राशि सिंगल क्लिक के माध्यम से आज संबंधितों के खातों में भिजवा दी।
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मध्यान्ह भोजन की हितग्राही बच्ची गीता एवं उसकी मां रमाबाई जिला खरगोन से मोबाइल पर चर्चा की। मुख्यमंत्री ने मिडिल स्कूल रेंगई जिला विदिशा की मध्यान्ह भोजन रसोईया मायाबाई एवं ग्वालियर की श्रीमती प्रेमवती से भी मोबाइल पर बात की तथा बताया कि कल तक उनके खाते में मानदेय की 2000 रूपये की राशि पहुंच जाएगी। श्री चौहान ने छात्र अल्केश जिला झाबुआ एवं छात्रा प्राची जिला सीहोर से मोबाइल पर वीडियो कॉफ्रेंसिंग के माध्यम से बातचीत की तथा बताया कि उनके खाते में कल तक छात्रवृत्ति की राशि पहुंच जाएगी।
पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग की मध्यान्ह भोजन योजनान्तर्गत 66 लाख 27 हजार विद्यार्थियों को खाद्य सुरक्षा भत्ते के रूप में 117 करोड़ रूपए की राशि उनके अभिभावकों के खाते में अंतरित की गई। प्रदेश की प्राथमिक शालाओं में दर्ज विद्यार्थियों की संख्या 40 लाख 29 हजार 464 है। इन विद्यार्थियों को 148 रूपए प्रति विद्यार्थी के मान से मध्यान्ह भोजन की राशि दी गई है। इसी प्रकार प्रदेश में माध्यमिक शालाओं में दर्ज विद्यार्थियों की कुल संख्या 25 लाख 98 हजार 497 है। इन विद्यार्थियों को मध्यान्ह भोजन की राशि 221 रूपए प्रति विद्यार्थी के मान से अंतरित की गई है।
स्कूल शिक्षा विभाग की समेकित छात्रवृत्ति योजना के अंतर्गत प्रदेश के 52 लाख विद्यार्थियों को कुल 430 करोड़ रूपए की राशि उनके खातों में अंतरित की गई है। मध्यान्ह भोजन योजना के अंतर्गत मध्यान्ह भोजन बनाने वाले 2 लाख 10 हजार 154 रसोईयों को उनके मानदेय की कुल राशि 42 करोड़ 3 लाख 8 हजार रूपये उनके खातों में दो हजार रूपये प्रति रसोईये के मान से अंतरित की गई है।
इस अवसर पर अपर मुख्य सचिव पंचायत एवं ग्रामीण विकास श्री मनोज श्रीवास्तव, सचिव जनसंपर्क श्री पी. नरहरि, प्रमुख सचिव स्कूल शिक्षा श्रीमती रश्मि अरूण शमी, आयुक्त लोक शिक्षण श्रीमी जयश्री कियावत, अपर संचालक लोक शिक्षण डॉ. कामना आचार्य एवं तकनीकी निदेशक एनआईसी श्री सुनील जैन आदि उपस्थित थे।

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: