कोरोना की भावी रणनीति “लॉकडाउन माइनस” हो

कोरोना की भावी रणनीति “लॉकडाउन माइनस” हो

कोरोना को हराने के साथ ही, हमें अर्थव्यवस्था को भी बचाना है, जनता की स्वास्थ्य रक्षा हेतु हर संभव कदम उठाएंगे
भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में कोरोना की भावी रणनीति ‘लॉकडाउन माइनस’ (Lockdown minus)होना चाहिए। अर्थात ऐसी रणनीति बनाई जाए जिसमें बिना लॉक डाउन किए कोरोना पर प्रभावी नियंत्रण किया जा सके। हमें प्रदेश की अर्थव्यवस्था को गतिमान भी करना है। इसके लिए पूरी तरह जनता को कोविड-19 के संबंध में जागरूक करना होगा तथा सर्वोत्तम उपचार व्यवस्था सुनिश्चित करनी होगी। प्रदेश में जनता की स्वास्थ्य रक्षा के लिए हम हर संभव कदम उठाएंगे। वित्तीय संकट के चलते दूसरे मदों में बजट की कुछ कमी की जा सकती है परंतु कोरोना से बचाव एवं उपचार में बजट की कोई कमी नहीं आने दी जाएगी।

मुख्यमंत्री श्री चौहान चिरायु अस्पताल से प्रदेश में कोरोना की स्थिति एवं व्यवस्थाओं की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से समीक्षा कर रहे थे। वीसी में गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा, चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री विश्वास सारंग, मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस, अपर मुख्य सचिव श्री मोहम्मद सुलेमान तथा सभी संबंधित उपस्थित थे।

भोपाल पर विशेष ध्यान दें

समीक्षा में पाया गया कि प्रदेश में भोपाल में सर्वाधिक 199 नए कोरोना संक्रमित पाए हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने भोपाल पर विशेष ध्यान दिए जाने के निर्देश अधिकारियों को दिए। हमीदिया अस्पताल में मृत्यु दर अधिक होने को मुख्यमंत्री ने अत्यंत गंभीरता से लिया तथा वहां सर्वोत्तम उपचार की व्यवस्थाओं संबंधी निर्देश डीन मेडिकल कॉलेज को दिए। बड़वानी जिले की समीक्षा में भी वहां 101 नए कोरोना संक्रमित मिलने पर मुख्यमंत्री ने कलेक्टर को विशेष सावधानी एवं सतर्कता बरतते हुए जिले में लॉक डाउन का कड़ाई से पालन कराए जाने के निर्देश दिए।

एंटीजन टेस्ट को बढ़ावा दें

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि त्वरित गति और बड़ी संख्या में कोरोना की जांच करने के लिए एंटीजन टेस्ट को भी मध्यप्रदेश में बढ़ावा दिया जाए। बताया गया कि इसके माध्यम से कोरना की रिपोर्ट 20 मिनट में ही मिल जाती है। विशेष रुप से बिना लक्षण वाले व्यक्तियों के टेस्ट के लिए यह अत्यंत उपयोगी है।

एसओपी वर्कआउट करें

ग्वालियर में सेना के एक समूह में एक साथ कोरोना संक्रमण पाए जाने पर मुख्य सचिव श्री बैंस ने निर्देश दिए कि इसके लिए एसओपी वर्क आउट की जाए, जिससे कि सेना की टुकड़ियों, पुलिस बल आदि में कोरोना के संक्रमण को प्रभावी ढंग से रोका जा सके।

प्रभारी अधिकारी जिलों में गाइड लाइन का कड़ाई से पालन कराएं

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि प्रभारी अधिकारी अपने-अपने प्रभार के जिलों में कोरोना के संक्रमण की रोकथाम के लिए गाइडलाइंस का सख्ती से पालन सुनिश्चित करवाएं। साथ ही जनता को समस्त सावधानियां बरतने के लिए जागरूक किया जाए। इस कार्य में स्वयंसेवी संगठनों एवं जनता का पूरा सहयोग लिया जाए।

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: