सोसायटी फॉर प्राइवेट स्कूल डायरेक्टर का क्रमिक धरना प्रदर्शन

सोसायटी फॉर प्राइवेट स्कूल डायरेक्टर का क्रमिक धरना प्रदर्शन

होशंगाबाद। विश्व साक्षरता दिवस World Literacy Day पर 16 सूत्रीय मांगो को लेकर सोसायटी फॉर प्राइवेट स्कूल डायरेक्टर Society for Private School Directors का क्रमिक धरना प्रदर्शन मध्य प्रदेश द्वारा प्रदेश में ब्लॉक स्तरीय क्रमिक धरना प्रदर्शन Block level शुरू हुआ। सोपास के जिलाध्यक्ष आलोक राजपूत District President Alok Rajput एवं प्रदेश संगठन मंत्री रवि शंकर राजपूत State Organization Minister Ravi Shankar Rajput ने बताया कि मध्यप्रदेश शासन द्वारा शासकीय और अशासकीय स्कूलों में भेदभाव पूर्ण आदेशों के चलते निजी विद्यालयों की स्थिति इस महामारी के दौर में बद से बदतर होती जा रही है। कुछ बड़े स्कूलों को छोड़ दें तो लगभग 90 प्रतिशत विद्यालय जोकि आत्मनिर्भर भारत अभियान के एक बड़े सहयोगी थे। अपने अपने विद्यालय बंद करने की कगार पर आ गए।

10 सितंबर से धारा प्रारंभ
प्रदेश में प्रत्येक ब्लाक स्तर क्रमिक धरना 10 सितंबर के मध्य प्रारंभ किया जाएगा। जिसकी शुरुआत मंगलवार को होशंगाबाद ब्लॉक से की गई। पांच संचालक सामाजिक दूरी के साथ अपनी मांग को समर्थन एवं कार्यवाही हेतु प्रतिदिन धरने पर बैठेंगे। 15 सितंबर के बाद अगले चरण में संगठन द्वारा नवीन कार्यवाही प्रस्तावित होगी। होशंगाबाद जिला अध्यक्ष आलोक राजपूत द्वारा मांग पत्र के बारे में जानकारी दी गई।

यह रहीं 16 सू़त्री मांग
सबसे पहली मांगस्कूलों की 2016-17 से विगत सत्र 2019-20 तक आरटीई के बच्चों की फीस प्रतिपूर्ति बिना बायोमेट्रिक अविलंब करने की मांग की गई है। क्योंकि कोरोना काल में नर्सरी से केजी2 तक के बच्चों के बायोमेट्रिक द्वारा आधार अपडेट नहीं हो पा रहे हैं। इसके साथ मान्यता में मंडल द्वारा संबद्धता के नाम पर अवैध वसूली को समाप्त की जाए। विभाग मान्यता मंडल परीक्षा शुल्क लें दोहरी प्रक्रिया समाप्त हो। वर्तमान में शासकीय स्कूलों द्वारा बिना टीसी के फीस शेष रहते बच्चों के प्रवेश से निजी स्कूलों में बड़ा आर्थिक संकट उत्पन्न हुआ है। इसके लिए उचित आदेश प्रसारित करना आवश्यक है जिसमें विगत सत्र की ही शेष रहते हुए बिना किसी के प्रवेश पर रोक लगाई जाए। नर्सरी से विद्यालय लगने की संभावनाएं अभी अत्यंत कम है ऐसे समय में महिला बाल विकास को एक नवीन प्रक्रिया के साथ ऑनलाइन पंजीयन का आदेश तत्काल निरस्त किया जाए। इस प्रकार से संगठन द्वारा 16 बिंदु का एक मांग पत्र प्रत्येक कलेक्टर विधायक सांसद के माध्यम से माननीय मुख्यमंत्री तक पहुंचाया जाएगा।

धरने में
प्रारंभिक धरना में ग्रामीण जिला अध्यक्ष तेजराम गौर संगठन मंत्री देवी सिंह राजपूत, ग्रामीण ब्लॉक अध्यक्ष प्रकाश चैरे, सक्रिय सदस्य रामविलास मालवीय, घनश्याम साहू, आलोक राजपूत, संगठन मंत्री रविशंकर राजपूत ने धरना प्रारंभ किया। ब्लॉक अध्यक्ष हरगोविंद शुक्ला, मोहनलाल गौर, अभिषेक दुबे, आशुतोष गुप्ता, जितेंद्र पटेल ब्लॉक, जिले के पदाधिकारियों द्वारा मां सरस्वती पूजन कर क्रमिक धरने का प्रारंभ किया।

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: