लाखों रुपए और जेवर ठगी की आरोपी महिला गिरफ्तार

लाखों रुपए और जेवर ठगी की आरोपी महिला गिरफ्तार

इटारसी। समूह के नाम पर लाखों रुपए और जेवरात लेकर लापता हुई महिला को पुलिस ने करीब 8 माह बाद गिरफ्तार (Arrest) कर लिया है। स्वसहायता समूह (Self help group) के नाम पर घरेलू महिलाओं का पैसा ब्याज पर चलाने और भूखंड दिलाने समेत कई तरह के झांसे देकर एक महिला रफूचक्कर हो गई थी। पुलिस ने उसे उस वक्त गिरफ्तार किया है जब वह कोर्ट में किसी वकील से मिलने जा रही थी। टीआई राम स्नेह चौहान (Ramsneh Chauhan, T.I.) का कहना है कि उसने कोर्ट में सरेंडर (surrender) किया है। उल्लेखनीय है कि घरेलू महिलाओं का पैसा ब्याज पर चलाने और भूखंड दिलाने समेत कई तरह के झांसे देकर इस वर्ष के प्रारंभ में फरवरी-मार्च में रफूचक्कर हुई अर्चना विश्वकर्मा पति राजेश विश्वकर्मा नामक महिला के खिलाफ दर्जनों महिलाओं ने थाने में शिकायत की थी। बताया गया है कि करीब 60 लाख रुपए से ज्यादा नकदी और जेवरात कथित तौर पर महिला ने लिये हैं।

इन्होंने दिया था आवेदन
मालवीयगंज आजाद पंजा चौराहा निवासी अर्चना विश्वकर्मा और कुछ महिलाओं के खिलाफ रामकली तिवारी, सुनीता ठाकुर रीना तिवारी, ऋषभ शर्मा ने शिकायती आवेदन दिया है। जिसमें बीसी, स्वसहायता समूह और भूखंड दिलाने के नाम पर अर्चना द्वारा झूठे आश्वासन देकर लोगों से लाखों रुपए ठगने की शिकायत की थी। इन्होंने बताया था कि ऋषभ शर्मा ने उनके करीब ढाई लाख रुपए भूखंड दिलाने के नाम पर लेने की शिकायत की तो अन्य कई महिलाओं से 21 लाख, 19 लाख, 5 लाख रुपए जेवरात लेने की शिकायत की थी।

महिला को लेकर सागर गयी पुलिस
पुलिस ने महिला अर्चना विश्वकर्मा को चार दिन की रिमांड पर लिया है। पुलिस उसे लेकर उसकी ससुराल सागर गयी है। लेकिन, महिला ने अब तक पुलिस को कुछ भी नहीं बताया है। टीआई रामस्नेह चौहान ने बताया कि महिला से फिलहाल कुछ भी निकलकर नहीं आया है। अभी उसे हर संभावित जगह ले जाया जा रहा है, जहां से कुछ सबूत हासिल किये जा सकें। उसे अभी 10 अक्टूबर तक पुलिस रिमांड पर हासिल किया है, महिला से पूछताछ की गई है और अब पुलिस टीम उसे लेकर सागर गयी है, सागर में उसकी ससुराल है।

पति और बच्चों का पता नहीं है
महिला (Mahila) से पुलिस (Police) कुछ खास नहीं उगल पायी है। उसके पति और बच्चे कहां हैं, यह भी नहीं बता रही है। महिला की ससुराल सागर में है, और रहने वाली ओबेदुल्लागंज के पास रातापानी के पास की है। वह इटारसी में भी किराये से रहती थी और सागर में भी उसका पति किराये के मकान में रहता है। उसके सारे खाते बंद हैं, उसके नाम कोई संपत्ति भी नहीं है। पुलिस ने महिला और पीडि़तों का आमना-सामना करा दिया लेकिन फिलहाल उसने पुलिस के समक्ष कुछ भी नहीं उगला है। टीआई श्री चौहान का कहना है कि हमारा प्रयास जारी है।

इनका कहना है…
हमने कोर्ट से चार दिन का पुलिस रिमांड लिया है, महिला से पूछताछ की जा रही है, फिलहाल तो उसने ज्यादा कुछ नहीं बताया है, उसे उसकी ससुराल लेकर गये हैं, संभवत: वहां से कुछ क्लू हासिल हो। वह यहां भी कराये से रहती थी और सागर में भी उसका पति किराये से रहता था।
रामस्नेह चौहान (Ramsneh Chauhan, T.I.)

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: