एक्टिंग का हमेशा से शौक रहा है : पटेल

 एक्टिंग का हमेशा से शौक रहा है : पटेल

– कवि, एक्टर बीके पटेल ने दी हालिया बेवसीरिज की जानकारी

इटारसी। आतंकवादी घटनाओं से प्रेरित कहानी पर बनी बेवसीरिज मिशन इंदौर (webseries mission indore) में डीआरडीओ के रिटायर्ड वैज्ञानिक (DRDO retired scientist) एक लतियत शराबी का किरदार निभाने वाले नगर के वरिष्ठ हास्य कवि, रंगमंच कलाकार और रिटायर्ड जिला शिक्षा अधिकारी बृजकिशोर पटेल का एक्टिंग का शौक हमेशा से ही रहा है।

साढ़े तीन दशक पूर्व टेलीफिल्म नागफनी में दूधवाले का किरदार निभा चुके बीके पटेल ने हाल ही में कलाकारों को तराशने एक अभिनय कार्यशाला भी आयोजित की थी। आज उन्होंने हालिया वेबसीरिज मिशन इंदौर (webseries mission indore) के विषय में विस्तार से जानकारी दी।

साल 1987 में टेलीफिल्म नागफनी से पर्दे पर एक्टिंग की शुरुआत करने वाले पटेल ने हाल ही में वेबसीरिज मिशन इंदौर (webseries mission indore) में अहम किरदार निभाया है। निर्माता, निर्देशक, लेखक और एक्टर अमन शर्मा की इस बेवसीरिज की पटकथा इंदौर में आतंकवादी घटना को सामने रखकर लिखी गयी है।

वेबसीरिज के तीन भाग हैं, जो क्रमश: कुरुक्षेत्र, चक्रव्यूह और ब्रह्मास्त्र के नाम से रिलीज किये हैं। इसे ओटीटी प्लेटफार्म एमएक्स प्लेयर पर देखा जा सकता है।

शहर में लगभग विलीन हो चुके ग्राम सोनासांवरी में जन्मे और शिक्षा विभाग में सहायक शिक्षक, सहायक संचालक और जिला शिक्षा अधिकारी पद पर सेवा देने वाले बीके पटेल न सिर्फ अच्छे हास्य कवि हैं, बल्कि बेहतर अभिनेता भी हैं। स्कूल-कालेज के समय से ही अभिनय की यात्रा शुरु हो गयी थी जो गांव में नाट्य मंडली के साथ रामलीला मंचन के अलावा वर्तमान में भये प्रकट कृपाला, रशिक संपादक, समर गाथा जैसे प्ले में भी उन्होंने अहम किरदार निभाकर अपनी अभियन कला को प्रदर्शित किया है। मिशन इंदौर में भी उनकी भूमिका को काफी पसंद किया जा रहा है।

मिशन इंदौर…

बड़ा एक्टर स्टुडियो इंदौर द्वारा निर्मित वेबसीरिज मिशन इंदौर (webseries mission indore) की कहानी शहर के व्यस्ततम चौराहे पर हुए बम ब्लास्ट से प्रारंभ होती है। दरअसल, इस ब्लास्ट के बाद उजागर हुआ कि जिस वक्त हमला हुआ तब ब्रह्मास्त्र सुरक्षा प्रणाली को सपोर्ट करने वाली सूचना प्रणाली सक्रिय नहीं था, आतंकवादियों के एक तकनीकि एक्सपर्ट ने उसे बाधित कर दिया था। सरकार रॉ के एक गुप्त संगठन त्रिशूल का गठन करके सिस्टम को एक्टिव करती है और इसके बाद इंदौर सहित मप्र के गुप्त आतंकवादियों को नेस्तनाबूद किया जाता है।

TAGS
Share This

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus (0 )
error: Content is protected !!