पानी का रास्ता बनाकर इंटेकवेल तक लाने की तैयारी

पानी का रास्ता बनाकर इंटेकवेल तक लाने की तैयारी

– पानी लाने तवा नदी में पोकलेन मशीन उतारी
– विधायक प्रतिनिधि मालवीय ने किया निरीक्षण
– काम में आएगी तेजी, बुझेगी जनता की प्यास
इटारसी। भीषण गर्मी में तवा नदी (Tawa River) पर संचालित जलावर्धन योजना (Jalwardhan Yojna) में नदी के पानी की कमी हो गई है, नदी की धार पतली होने एवं पानी सूखने के कारण इंटकवेल (Intakewell) बराबर लोड नहीं हो रहा है। इस समस्या से निपटने शुक्रवार को विधायक प्रतिनिधि जगदीश मालवीय, सब इंजीनियर जलकार्य आदित्य पांडेय, ठेकेदार प्रशांत अग्रवाल ने मौके पर जाकर निरीक्षण किया।
मालवीय ने कहा कि विधायक डा. सीतासरन शर्मा (MLA Dr. Sitasaran Sharma) के निर्देश पर जलापूर्ति में आ रही समस्या की जानकारी ली, यहां देखा कि इंटकवेल से करीब 4 किमी दूरी तक नदी का पानी खिसक गया है, यहां तक पानी आने का रास्ता संकरा है, साथ ही केनाल (Canal) में गाद-कचरा जमा हुआ है, इस कारण 4-5 घंटे ही मोटर लोड ले रही है, कैचमेेंट एरिया (Catchment Area) के आसपास भरपूर पानी होने पर ही लगातार मोटर काम कर सकेंगी, इसे देखते हुए नदी का पानी पास लाने धार मोड़कर केनाल चौड़ाई बढ़ाने पोकलेन नदी में उतारी गई है, 2-3 दिन में मशीन (Machine)से नदी का पानी रास्ता मोड़कर इंटकवेल तक लाया जाएगा। यहां जांच में पता चला कि रात में एक मोटर भी जल गई है, मालवीय ने तत्काल इसे दुरुस्त कराने के निर्देश दिए। सब इंजीनियर आदित्य पांडेय ने बताया कि रास्ता बनने के बाद पानी की धार किनारे तक आएगी, इससे पानी का जलस्तर बढऩे से हम इंटकवेल लोड कर सकेंगे। शहर में गर्मी की वजह से प्रति व्यक्ति पानी की मांग बढ़ रही है, हालांकि नगर पालिका (Municipality) धोखेंड़ा (Dhokhenda) और मेहराघाट (Mehraghat) दोनों जगह से रोजाना 14 एमएलडी पानी आपूर्ति कर रही है, जिन इलाकों में समस्या है, वहां जरूरत पडऩे पर टैंकर भेजे जा रहे हैं।

CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

COMMENTS

error: Content is protected !!