सिर्फ 365 दिनों में ही भूल गये आप कोविड आपदा को

सिर्फ 365 दिनों में ही भूल गये आप कोविड आपदा को

– कोविड वैक्सीन को बच्चों की बांह तक पहुंचाने करें पहल
– कोविड से अपने परिवार की सुरक्षा करें मास्क के साथ
– जिला पंचायत सीईओ के मार्गदर्शन में जागरूकता कार्यक्रम
इटारसी। हर मध्यम नगर से लेकर बड़े शहरों तक न्यूनतम 365 लोग कोविड से प्रभावित हुये अभी 365 दिन बीते भी नहीं हैं कि आमजन के मन में इसका भय लुप्त सा हो गया है। पालकों ने तो वैक्सीन (Vaccine) की दोनों डोज़ (dosage) ले ली है, लेकिन वे उनके बच्चों के कोविड टीकाकरण (covid vaccination) के प्रति उत्साह नहीं दिखा रहे हैं। इस कारण शासन की तरफ से निशुल्क उपलब्ध कराई जा रही वैक्सीन बच्चों की बांहों तक नहीं पहुंच पा रही हैं। यह बात नेशनल अवार्ड प्राप्त विज्ञान प्रसारक सारिका घारू (National Award winning science broadcaster Sarika Gharu) ने टीकाकरण जागरूकता कार्यक्रम में कही।

केसला ब्लॉक (Kesla Block) के ग्राम जालीखेड़ा (Village Jalikheda), अमझिरा (Amjira), मरयारपुरा (Maryarpura), मोरपानी (Morpani) आदि में किये जागरुकता कार्यक्रम के विषय में सारिका ने बताया कि जिला पंचायत सीईओ मनोज सरियाम के मार्गदर्शन में यह कार्यक्रम चलाया जा रहा है। आने वाले दिनों में अखबारों में संभवत: प्रथम पुण्य तिथि, श्रद्धांजलि परिशिष्ट की आवश्यकता पड़ जाये, लेकिन एक साल पूरे होने के पहले ही न केवल अभिभावक बल्कि उनके बच्चे इस महामारी को हल्के में ले रहे हैं। वर्तमान में हमारे देश तथा प्रदेश में भी नये वैरियेंन्ट (Variant) की दस्तक सुनाई दे रही है। इसका आगमन अपने शहर में किस रूप में होगा इसकी सटीक भविष्यवाणी कोई नहीं कर सकता है।
सारिका ने अपील की कि इससे बचाव के लिये पूर्ण टीकाकरण एवं मास्क का प्रयोग ही उपाय है। वर्तमान में अनेक बच्चों को वैक्सीन की दोनो डोज नहीं लगी हैं, इसलिये विवाह एवं अवकाश के इस महीनों में अपने बच्चों को दोनों डोज से टीकाकरण करवायें एवं बड़ों के साथ बच्चों को भी मास्क पहनने के लिये कहें।

CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

COMMENTS

error: Content is protected !!