Mahakal

बाबा महाकाल की कार्तिक-अगहन पर निकलने वाली सवारी का समय हुआ तय

उज्जैन। सावन- भादौं के बाद अब महाकाल (Mahakaal) की कार्तिक और अगहन माह में निकलने वाली सवारी की तैयारी शुरु हो गई है। कार्तिक माह (Kartik month) की महाकाल की पहली सवारी सोमवार यानि 8 नवंबर कल निकाली जाएगी। यह बाबा महाकाल की यह सवारी कार्तिक और अगहन माह में शाम 4 बजे निकाली जाती है। बता दें कि महाकाल मंदिर में महादेव की सवारी कल सोमवार को पहली सवारी निकलेगी। उसके बाद 15, 22 और 29 नवंबर सोमवार को निकाली जाएगी।

कोविड के कारण किया सवारी मार्ग छोटा
कोविड प्रोटोकाल के कारण इस बार भी सवारी मार्ग को छोटा कर दिया गया है। इस बार महाकाल की चारों सवारी महाकालेश्वर मंदिर से रामघाट तक हरसिद्धि मार्ग से होते हुए जाएगी। सवारी के दौरान गोपाल मंदिर के सामने से रामघाट होते हुए सवारी निकालने की परंपरा है, लेकिन कोविड के कारण दो साल से यह मार्ग छोटा कर दिया गया है। आमजन दर्शन कर सकेंग। महाकाल की सवारी का लाइव टेलीकास्ट भी किया जाएगा।

यहां अलग अलग परपंरा
महाकाल की सवारी के संबंध में शैव और वैष्णव संप्रदायों की अलग- अलग परंपरा है. शैव परंपरा के अनुसार सावन माह में सवारी निकलती है, जबकि वैष्णव परंपरा का पालन करते हुए कार्तिक व अगहन माह में चार सवारियां निकाली जाती ह। उज्जैन में दोनों संप्रदाय को मानने वाले लोग हैं इसलिए इनकी भावनाओं के अनुरूप अलग—अलग सवारियां निकाली जाती हैं।

CATEGORIES
Share This

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus (0 )
error: Content is protected !!