सुशासन में सूचना प्रौद्योगिकी की भूमिका पर बेबीनार

सुशासन में सूचना प्रौद्योगिकी की भूमिका पर बेबीनार

इटारसी। शासकीय महात्मा गांधी स्मृति स्नातकोत्तर महाविद्यालय (Government Mahatma Gandhi Memorial Postgraduate College), में एक दिवसीय राष्ट्रीय बेबीनार (Babynar) ‘ सुशासन में सूचना प्रौद्योगिकी की भूमिका’ विषय पर राजनीति शास्त्र विभाग द्वारा आयोजित किया।
प्राचार्य प्रो. पीके पगारे (Prof. PK Pagare) ने सरस्वती मां के चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्वलित कर शुरूआत की। उन्होंने अपने उद्बोधन में कहा कि आज के वर्तमान परिदृष्य को देखते हुए जो परिवर्तन हो रहे हैं, उसमें और भी बदलाव करने की आवश्यकता है। राजनीति विभाग की विभागाध्यक्ष श्रीमती सुशीला वरवडे (Sushila Varvade) ने इस विषय पर उदेश्य को संक्षिप्त रूप से समझाया। मुख्य वक्ता प्रो. डॉ. अजय चंद्राकर (Prof. Dr. Ajay Chandrakar) ने कहा कि जनता का, जनता के लिए, जनता द्वारा शासन में जनहित योजनाओं को पारदर्शी, जबावदेही, प्रभावी और कुशल प्रशासन, उत्तरदायी नेतृत्व करने वाला शासन। विशिष्ट वक्ता के रूप में प्रो. डॉ. श्रीकांत दुबे (Pro. Dr. Shrikant Dubey) ने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा, राजकीय व्यवस्था पर परिवर्तन जरूरी है। राज व्यवस्था, लोक कल्याणकारी राज्य, राज्य की समस्या पर प्रकाश डालते हुए शासन व्यवस्था का सुचारू रूप सें क्रियान्वयन किया जाना चाहिए।
मंच संचालक योगेश गौर (Yogesh Gaur) एवं आभार प्रदर्शन डॉ. दुर्गेश कुमार लसगरिया (Dr. Durgesh Kumar Lasgaria) ने किया। महाविद्यालय मे वनस्पति विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ. राकेश मेहता (Dr. Rakesh Mehta), अर्थशास्त्र विभाग से डॉ. अरविंद कुमार शर्मा (Dr. Arvind Kumar Sharma) जंतुविज्ञान के डॉ. अर्चना शर्मा (Dr. Archana Sharma), शैलू सिंह (Shailu Singh), श्रद्धा पटेल (Shraddha Patel), संतोष अहिवार (Santosh Ahiwar), आशुतोष मालवीय (Ashutosh Malviya), मनीष चौरे (Manish Choure), दिनेश प्रजापति (Dinesh Prajapati), भावना मालवीय (Bhavna Malviya), अंकिता पांडे (Ankita Pandey) सहित कर्मचारी व अधिकारी उपस्थित थे।


CATEGORIES
TAGS
Share This

AUTHORRohit

I am a Journalist who is working in Narmadanchal.com.

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus (0 )
error: Content is protected !!