अखंड हरिनाम संकीर्तन 11 अप्रैल से बंगाली कालोनी में

अखंड हरिनाम संकीर्तन 11 अप्रैल से बंगाली कालोनी में

इटारसी। नई गरीबी लाइन के पास बंगाली कालोनी (Bengali Colony) में अखंड हरिनाम संकीर्तन (Akhand Harinama Sankirtana) कार्यक्रम 11 अप्रैल से 13 अप्रैल तक तीन दिन चलेगा। कार्यक्रम के दौरान प्रात: 6 बजे से संकीर्तन प्रारंभ होंगे जो 13 अप्रैल को प्रात: 6 बजे तक लगातार चलेंगे।
उल्लेखनीय है कि अखण्ड बंगाल (Akhand Bengal) के एक कालजयी संत चैतन्य महाप्रभु (Chaitanya Mahaprabhu) ( सन्यास से पूर्व का नाम विशम्भर मिश्र) जिन्होंने भक्ति, कीर्तन के द्वारा वैष्णव संप्रदाय (Vaishnava Sampradaya) में, कृष्ण भक्ति में पूरे भारत को आंदोलित किया, भक्ति आंदोलन के द्वारा धर्म के क्षेत्र में भूचाल ला दिया, कृष्ण भक्ति में सम्पूर्ण भरत को सराबोर कर दिया। कृष्ण भक्ति (Krishna Bhakti) के सभी स्वरूपों में महाप्रभु के गहरे प्रभाव है।
चैतन्य महाप्रभु को श्री राधा का, श्री कृष्ण का अवतार माना गया है। महाप्रभु (1486-1534 ) ने गायन, नृत्य, मृदंग, ईश्वर के स्मृति में रुदन, विलाप और तीव्र शारीरिक गतिशीलता के एक साथ जुगलबंदी ओर समायोजन से सभी सनातनियों को सकते में ला दिया। गहरे तक प्रभावित किया और मदहोश कर कृष्ण भक्ति की जैसे सुनामी ला दी। इसी भक्ति के स्वरूप को आधार बना कर बंगाली कॉलोनी में गायन, नृत्य, मृदंग बाजन एवं भक्ति पूर्ण संवेदनाओं के आंतरिक एवं भावपूर्ण संवेदनाओं की कष्टसाध्य, कला को देखने, अनुभूत करने का यह अद्भुत कार्यक्रम होगा।

CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

COMMENTS

error: Content is protected !!