10 अप्रैल को धूमधाम से मनेगा श्री राम जन्म महोत्सव

10 अप्रैल को धूमधाम से मनेगा श्री राम जन्म महोत्सव

– प्रवचन, खाटू श्याम भजन संध्या, शोभायात्रा निकलेगी
– 2 से 8 अप्रैल तक होंगे शाश्वत जी महाराज के प्रवचन
– महोत्सव समिति की बैठक में लिए गए प्रमुख निर्णय
इटारसी। श्री द्वारिकाधीश बड़ा मंदिर (Shri Dwarkadhish Bada Mandir) तुलसी चौक के सत्संग भवन में रविवार शाम श्री राम जन्म महोत्सव (Shri Ram Janma Mahotsav) समिति की बैठक में चैत्र नवरात्रि के अवसर पर श्री राम जन्म महोत्सव मनाने का निर्णय सर्वसम्मति से लिया।

समिति के मुख्य संरक्षक एवं विधायक डॉ सीतासरन शर्मा (MLA Dr. Sitasaran Sharma) के मार्गदर्शन में संरक्षक प्रमोद पगारे, समिति अध्यक्ष सतीश अग्रवाल सांवरिया, कार्यकारी अध्यक्ष जसवीर सिंह छाबड़ा, सचिव अशोक शर्मा सहित समिति के पदाधिकारी एवं सदस्य मौजूद रहे। संयोजक जसवीर सिंह छाबड़ा ने बताया कि विगत 2 वर्षों से कोरोना महामारी के कारण श्री राम जन्म महोत्सव के प्रवचन के कार्यक्रम नहीं हो सके थे। पिछले वर्ष श्री शाश्वत भार्गव (Shashwat Bhargava) को निश्चित किया था इसलिए इस वर्ष उन्हें ही आमंत्रित किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि चंबल और मालवा के संगम स्थल बम्होरी गुना में 26 मार्च 2001 को जन्मे श्री शाश्वत भार्गव का सत्संग देश के कई प्रमुख संतों से हो चुका है एवं आचार्य रामभद्राचार्य (Acharya Rambhadracharya), देवकीनंदन ठाकुर (Devkinandan Thakur), रमेश भाई ओझा (Ramesh Bhai Ojha), देवी ऋतंभरा (Devi Ritambara) का आशीर्वाद इनको प्राप्त है। श्री छाबड़ा ने बताया कि 9 अप्रैल सायंकाल 7 बजे से खाटू श्याम परिवार (Khatu Shyam Parivar) के सौरभ मित्तल के सहयोग से राजस्थान के प्रमुख गायक कलाकार चेतन दाधीच जयपुर राजस्थान एवं स्थानीय कलाकार कनक एवं मयंक की एक शाम खाटू श्याम के नाम का आयोजन तुलसी चौक पर होगा। 10 अप्रैल को दोपहर में प्रभु श्री राम का जन्म महोत्सव धूमधाम से मनाया जाएगा एवं सायंकाल 5 बजे से शोभायात्रा निकाली जाएगी। कथा प्रतिदिन रात्रि 7.30 बजे से प्रारंभ होगी एवं 11 बजे समापन होगा। 2 अप्रैल से 10 अप्रैल तक प्रतिदिन तुलसीकृत श्रीरामचरितमानस के नव्हांन परायण पाठ का आयोजन दोपहर 1 बजे से होगा।

आयोजन के लिए प्रमुख समितियां बनाई गयी है जो कार्यक्रम में विभिन्न जिम्मेदारियां संभालेगी। बैठक में दानसंग्रह समिति, शोभायात्रा समिति, मंच संचालन समिति, प्रचार प्रसार समिति, बैठक व्यवस्था समिति, संत व्यवस्था समिति, माइक व्यवस्था एवं नवहान परायण समिति बनाई गई, एवं विभिन्न सदस्यों को जिम्मेदारियां दी गयी।  बैठक के अंत मे कोरोना महामारी के समय श्री राम जन्म महोत्सव समिति के पदाधिकारी एवं सदस्यों की अकस्मात मृत्यु पर 2 मिनट का मौन रखकर उन्हें श्रद्धांजलि दी गई। जिनमें स्व.समीरमल गोठी, अनिल अग्रवाल सांवरिया, संजय खंडेलवाल चीनी, संदीप मालवीय, राजेश मालवीय पूर्व पार्षद, सुरेंद्र अरोरा को श्रद्धांजलि दी गई।

CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

COMMENTS

error: Content is protected !!