कविता संग्रह ‘चुप्पी वाले दिन’ पर चर्चा आयोजित

कविता संग्रह ‘चुप्पी वाले दिन’ पर चर्चा आयोजित

भोपाल। मायाराम सुरजन स्मृति भवन में आज मप्र हिंदी साहित्य सम्मेलन द्वारा मानवीय सरोकारों की सशक्त चितेरी डॉ मालिनी गौतम के तीसरे कविता संग्रह ‘चुप्पी वाले दिन’ पर चर्चा आयोजित की गई।

कार्यक्रम की अध्यक्षता राजेश जोशी ने की। आयोजन के प्रारंभ में साहित्यिक पत्रिका “अनाहत” के प्रधान संपादक विनोद कुशवाहा आदि ने अतिथियों का स्वागत किया। इसके पश्चात श्रुति कुशवाहा ने डॉ मालिनी गौतम से उनकी कविताओं पर बातचीत की। इस सार्थक चर्चा के बाद मप्र हिंदी साहित्य सम्मेलन के अध्यक्ष पलाश सुरजन तथा कार्यकारी अध्यक्ष विजय अग्रवाल ने अतिथियों सहित डॉ मालिनी गौतम के काव्य संग्रह ‘चुप्पी वाले दिन’ का विमोचन किया। तत्पश्चात संतोष कुमार द्विवेदी, उमरिया, बादल सरोज, भोपाल ने अपने वक्तव्य में डॉ मालिनी गौतम की कविताओं के शिल्प पर टिप्पणी की। अंत में कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे जनवादी कवि राजेश जोशी ने डॉ मालिनी गौतम के कविता संग्रह “चुप्पी वाले दिन” पर अपना समीक्षात्मक उद्बोधन दिया। समारोह का संचालन अभिषेक वर्मा ने एवं आभार प्रदर्शन रक्षा दुबे चौबे ने किया।

CATEGORIES
Share This

COMMENTS

error: Content is protected !!