अनदेखी : रेलवे स्टेशन की गंदगी स्टापडेम में भरी, बदबू से जीना दूभर
ANDEKHI: Dirt of railway station filled in stopdam, it is difficult to live with stink

अनदेखी : रेलवे स्टेशन की गंदगी स्टापडेम में भरी, बदबू से जीना दूभर

ठंडी पुलिया से बेस किचन के पीछे तक रहने वाले परेशान

इटारसी। रेलवे के बंद हो चुके बेस किचन (Base kitchen, Itarsi) से ठंडी पुलिस तक रोड के दक्षिणी हिस्से में रहने वालों का इन दिनों शाम के बाद नाले और स्टापडेम (Stop Dam) में सड़ रहे कचरे की बदबू से जीना दूभर हो रहा है। रेलवे के स्थानीय अधिकारियों को सूचना करने के बावजूद वे यहां झांकने तक नहीं आये हैं।
दरअसल, कालोनी प्रायवेट लोगों की है, संभवत: इसलिए अधिकारी अपनी जिम्मेदारी से पल्ला झाड़ रहे हैं। लेकिन, वे यह तो बखूबी जानते हैं कि यहां रहने वाले ज्यादातर लोग रेलवे से सेवानिवृत्त होकर बारह बंगला के निकट ही प्लाट लेकर मकान बनाकर रह रहे हैं, ताकि रेलवे के प्रति उनकी अपनत्व की भावना बनी रह सके। बावजूद इसके रेलवे अपनी इन पूर्व कर्मचारी और अधिकारियों की तकलीफ से मुंह फेर रहा है।

यह है परेशानी

रेलवे स्टेशन के आउटलेट का पानी ठंडी पुलिया के पास स्थित नाले से होकर उस स्टॉप डेम में एकत्र हो रहा है, जो रेलवे ने फिल्टर प्लांट (Filter Plant) के लिए बनाया है। इसमें रेलवे की सबसे बड़ी लापरवाही यह सामने आ रही है कि उस स्टॉप डेम में पानी रोक लिए जाने के बाद रेलवे ने कभी इसकी सफाई की ओर नहीं देखा है, क्योंकि इस पानी के ऊपर बहुत मोटी एक परत डिस्पोजेबल, पॉलिथीन और अन्य कचरे की जम गई है। कचरा एकत्र हो जाने के कारण उसकी सड़ांध से रोड के किनारे भयानक बदबू आती है। यह बदबू आसपास की कालोनियों तक लोगों की परेशानी का सबब बन रही है।

अधिकारी नहीं दे रहे हैं ध्यान

आश्चर्य की बात यह है कि रेलवे स्टेशन का पानी निकाल कर और कचरा वहां से यहां स्थानांतरित करने के बाद रेलवे के अधिकारियों ने कभी इस ओर पलट कर नहीं देखा कि यह पानी और कचरा मिलकर आसपास रहने वालों के स्वास्थ्य पर कितना घातक असर डाल सकता है। रेलवे के अधिकारी कभी इस तरफ देखने भी नहीं आते हैं। बड़ी बात यह है कि बारिश का मौसम सिर पर है, ऐसे में पहाड़ से होकर आने वाला नाला भी इसी जगह आकर मिलता है। यह दोनों जगह के पानी और कचरा सड़क पर फैलकर लोगों की तकलीफों को और बढ़ाते हैं। यहां के निवासियों की मांग है कि जल्द से जल्द यह समस्या हल हो जाए ताकि आसपास रहने वाले और रेलवे कॉलोनी के लोगों को राहत मिल सके।

इनका कहना है…!

मैंने इस मामले में संबंधित विभाग के अधिकारी से बात की है। हर हाल में उस जगह की सफाई करायी जाएगी। जनता से जुड़ी समस्या है, इसका समाधान अधिकारियों को करना ही होगा।
राजा तिवारी, जेडआरयूसीसी सदस्य (Raja Tiwari, ZRUCC Member)

पहले एक नाले के पानी से परेशान थे, अब स्टॉप डेम के कारण दूसरा छोटा नाला बन गया है। इसमें सफाई कभी होती नहीं। मच्छर और बदबू से जीना मुश्किल हो गया है। पिछले साल भी कई बार अधिकारीयों से बात की पर न कोई देखने आया, न ही सफाई हुई।
विनोद सिंह हाडा, निवासी, बेस किचिन के पास (Vinod Singh Chouhan)

CATEGORIES
Share This

COMMENTS

error: Content is protected !!