घर से निकलने से पूर्व लू से बचने कर लें सभी इंतजाम

घर से निकलने से पूर्व लू से बचने कर लें सभी इंतजाम

– नर्मदापुरम सहित डेढ़ दर्जन जिलों में पांच दिनों तक लू का प्रकोप रहेगा
इटारसी। अगले पांच दिन गर्मी के बेहद कठिन गुजरने वाले हैं। मौसम विभाग (Meteorological Department) का कहना है कि अगले पांच दिन नर्मदापुरम (Narmadapuram) जिले सहित प्रदेश के डेढ़ दर्जन से अधिक जिलों में लू चलने (heat wave) की संभावना जतायी है। ऐसे में लोगों को सलाह दी गई है कि वे घर से निकलें तो गर्मी से बचने (escape from heat) के सारे इंतजाम करके ही निकलें।
लू से बचने के लिए आमजन को सुझाव दिया है कि सूर्य की किरणों (sun rays) के सीधे संपर्क में आने से बचें, हल्के रंग के सूती कपड़े पहने, सिर को कपड़े या टोपी से ढंककर रखें और घर से निकलने से पूर्व पर्याप्त मात्रा में पानी पीकर ही निकलें। मौसम विभाग का अनुमान है कि आगामी चौबीस घंटे ग्वालियर और छतरपुर जिलों में तीव्र लू के अलावा नर्मदापुरम, रीवा, सतना, सीधी, उमरिया, छिंदवाड़ा, जबलपुर, सागर, टीकमगढ़, निवाड़ी, दमोह, राजगढ़, खंडवा, खरगौन, रतलाम, शाजापुर, गुना, दतिया और श्योपुरकलॉ जिलों में अगले पांच दिन लू चलने की संभावना जतायी है। इन जिलों में लू का यलो अलर्ट जारी किया है।
पिछले चौबीस घंटे में प्रदेश का सर्वाधिक अधिकतम तापमान 42 डिग्री सेल्सियस खरगौन, नर्मदापुरम, खजुराहो एवं नौगांव में और सबसे कम न्यूनतम तापमान 15 डिग्री सेल्सियस 15 डिग्री सेल्सियस मलाजखंड एवं मंडला जिलों में दर्ज किया है। इस दौरान प्रदेश के लगभग सभी जिलों में मौसम शुष्क रहा है।

नर्मदापुरम का अप्रैल का जलवायु लक्षण

इस माह में तापमान दिन निरंतर बढ़ते जाता है तथा हवा का दबाव कम होते जाता है। इस माह में तापमान दिन प्रतिदिन बढ़ता है तथा माह के शुरुवात में 39.0 डिग्री सेल्सियस का अधिकतम तापमान, महीने के अंत तक 41.0 डिग्री सेल्सियस या उससे अधिक पहुंच जाता है। कभी कभी 44.0 डिग्री सेल्सियस से अधिक भी हो जाता है। इस माह में औसत आद्र्रता लगभग 33 से 18 प्रतिशत के बीच होती है। कभी कभी वातावरण धूमिलसा होता है। इस माह में अधिकतम और न्यूनतम तापमान का अंतर बहुत ज्यादा होता है। औसत न्यूनतम तापमान 20.0 डिग्री सेल्सियस से 25.0 डिग्री सेल्सियस के बीच रहता है ।
उत्तरी भारत से होकर जाने वाले शीतकालीन विक्षोभों के प्रभाव से कभी-कभी आकाश बादलों से आच्छादित हो जाता है तथा गर्जन एवं वर्षा होने की भी संभावना रहती है। कभी कभी ओलावृष्टी के साथ मेघगर्जना भी होती है। इस माह में गर्जन होने वाले दिनों की औसत संख्या 0.3 है। इस माह में औसत वर्षा 3.7 मिमी है तथा वर्षा के दिनों की संख्या 0.3 है।
उपलब्ध अभिलेख के आधार पर होशंगाबाद इस माह सबसे अधिकतम तापमान 46.0 डिग्री सेल्सियस 25 अप्रैल 1980 में, न्यूनतम तापमान 1 अप्रैल 1988 को 11.7 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया, सन 1998 में सर्वाधिक कुल मासिक वर्षा 101.1 मिमी और 24 अप्रैल 1998 में 24 घंटे में 100.1 मिमी है।



CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

COMMENTS

error: Content is protected !!