Exclusive : कायाकल्प अवार्ड में मप्र में सीएचसी सिवनी मालवा टॉप

Exclusive : कायाकल्प अवार्ड में मप्र में सीएचसी सिवनी मालवा टॉप

– 15 लाख रुपए का मिलेगा पुरस्कार
नर्मदापुरम। जिले के सिवनी मालवा (Seoni Malwa) तहसील में स्थित सीएचसी (CHC) अस्पताल को कायाकल्प अवार्ड (Kayakalp Award) के तहत प्रदेश में प्रथम पुरस्कार से नवाजा गया है। इसके अंतर्गत अस्पताल को 15 लाख रुपये का नकद पुरस्कार भी मिला है। सिवनी मालवा सीएचसी मप्र की 84 सिविल हॉस्पिटल (Civil Hospital) और 330 सीएससी में टॉप रही है। अब 8 अप्रैल को एनक्यूएएस (NQAS) के मापदंडों पर अस्पताल बेहतर प्रदर्शन करता है तो केंद्र सरकार से भी सीएचसी सिवनी मालवा को मदद मिलेगी।
ज्ञात हो प्रदेश में कायाकल्प अवार्ड 2021-22 की घोषणा की बुधवार देर रात हुई है जिसमें 84 सिविल हॉस्पिटल और 330 सीएससी में सिवनी मालवा अस्पताल प्रदेश में टॉप पर रहा है और 15 लाख का मिला ईनाम हकदार बना है। कायाकल्प के तहत सीएससी सिवनी मालवा परीक्षा से गुजरा था और चार महीने तक कई मापदंडों पर अस्पताल का मूल्यांकन हुआ।
इस दौरान कोविड-19 (COVID-19) संक्रमण के चलते प्रिअर असेसमेंट फाइनल में राज्य स्तरीय टीम ने फिजीकल असेसमेंट (Physical Assessment) किया था। इस अवार्ड को दिलाने में अहम भूमिका बीएमओ कांति बाथम (BMO Kanti Batham) और डॉ जीआर करोड़े (Dr. GR Crore) के अलावा पूरे स्टाफ की रही। प्रदेश में कायाकल्प अवार्ड 2021-22 के नामों की घोषणा के बाद जिला मुख्यालय सहित सिवनी मालवा में खुशी का माहौल है। प्राप्त जानकारी के अनुसार प्रदेश भर के जिला चिकित्सालय, सिविल अस्पताल, सीएचसी में बेहतर स्वास्थ्य सुविधाओं के आधार पर हर वर्ष कायाकल्प अवार्ड दिया जाता है। इस अवार्ड के तहत मंशा यह होती है कि स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर करने में जहां सरकारी अस्पतालों में परस्पर स्वस्थ्य प्रतियोगिता होती, वहीं इसका लाभ आम मरीजों को मिले।
अवार्ड की शुरुआत वर्ष 2015 में हुई थी। इसमें मरीजों को बेहतर इलाज, साफ-सफाई, स्टाफ का मरीजों के प्रति व्यवहार, संसाधन, जरूरी स्टाफ, अस्पताल में इलाज कराने वाले मरीजों की संख्या आदि के आधार पर कई चरणों में मूल्यांकन होता है। इसमें स्टाफ की व्यवहारिक ज्ञान से लेकर मरीजों की संतुष्टि आदि को भी परखा जाता है।



CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

COMMENTS

error: Content is protected !!