लापरवाही पर ग्राम पंचायत पथरोटा का सचिव निलंबित

लापरवाही पर ग्राम पंचायत पथरोटा का सचिव निलंबित

– ग्रामीणों ने की थी घोर अनियमितता की शिकायत

– जांच के बाद जिला पंचायत सीईओ ने किया निलंबित

इटारसी। ग्राम पंचायत पथरोटा (Gram Panchayat Pathrota) के सचिव को जिला पंचायत सीईओ (CEO) ने निलंबित कर दिया है। निलंबन अवधि में सचिव का मुख्यालय जिला पंचायत नर्मदापुरम (District Panchayat Narmadapuram) रहेगा। सचिव को नियमानुसार जीवन निर्वाह भत्ता भुगतान की पात्रता रहेगी।
उल्लेखनीय है कि ग्राम पंचायत पथरोटा (Gram Panchayat Pathrota), जनपद पंचायत केसला (Janpad Panchayat Kesla) के सचिव राजेन्द्र चौर के खिलाफ ग्रामीणों ने गंभीर शिकायतें की थी। उन्हें पदीय शासकीय कर्तव्यों के निर्वहन में घोर लापरवाही और उदासीनता बरतने के कारण मप्र पंचायत सेवा अनुशासन तथा अपील नियम 2011 भाग-2 की कंडिका 4(1) के प्रावधानों के अंतर्गत तत्काल प्रभाव से ग्राम पंचायत सचिव पर से निलंबित किया है।

ये थी ग्रामीणों की शिकायत

– मछली बाजार एवं बस स्टैंड सहित वित्तीय वर्ष 2015-2022 तक 14 वे वित्त, 15 वे वित्त आयोग तक समस्त शासकीय राशि से प्राप्त निर्माण कार्यों की जांच की जाए। जो भी अनियमिमता मिले उनमें दोषी सरपंच, सचिव या अन्य कर्मचारियों पर प्रभावी कार्यवाही की जाए।
– समस्त निर्माण कार्यों पर अनिवार्यत: बोर्ड लगाये जाएं जिसमें कार्य का पूर्ण ब्यौरा लिखा हो, समस्त प्राप्त राशि एवं आहरित राशि तथा व्यय राशि का कार्यवार ब्यौरा दिया जाए।
– नालियों की सफाई ग्राम में कहीं होती नहीं है, परंतु इसके नाम पर राशि निकाली जाती है, मछली शेड निर्माण का कार्य शिकायत के बाद अप्रैल में प्रारंभ किया है।
– पुराना पंचायत भवन तोड़कर उसकी सामग्री अनाधिकृत रूप से खुर्दबुर्द कर दी है।
– माता मंदिर का रोड फर्शियों का बना है। सभी ग्रामीण इन मामलों में जिला स्तरीय जांच चाहते हैं।

इनका किया सत्यापन

– रज्जन चिमानिया के घर से भूरा पटेल के घर तक सीसी रोड निर्माण में रोड बनी है, बोर्ड व नाली नहीं है।
– नेशनल हाईवे 69 से माता मंदिर तक सीसी रोड के सत्यापन में यह मिला कि रोड बनी है, नाली कुछ दूर तक ही बनी है।
– पूर्वी माता मंदिर से हैंडपंप तक 53 मीटर सीसी रोड तो बना है, लेकिन नाली यहां भी नहीं है।
– राजकुमार के घर से मुन्ना रावत के घर तक सीसी रोड 80 मीटर विधायक निधि से बना है, नाली नहीं है।
पवन पटेल के घर से चिमानिया के घर तक सीसी रोड बनी है, नाली नहीं है।
मेन रोड से रामविलास चौरे के घर तक सीसी रोड अधूरी नाली एक साइड
सत्यापन के बाद समस्त कार्यों का मिलान कार्यों की पंजियों से माप, व्हाउचर फाइल, केशबुक से मिलान का कार्य टीम इसलिए नहीं कर सकी थी कि पंचायत के जिम्मेदार अनुपस्थित रहे।

इनका कहना है…
पूर्व में हुई जांच की रिपोर्ट के आधार पर जिला पंचायत से सचिव का निलंबन हुआ है। दो दिन पूर्व जो जांच की गई है, वह विस्तृत जांच है, जिसकी रिपोर्ट अभी जाना है।
वंदना कैथल, सीईओ जनपद पंचायत

CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

COMMENTS

error: Content is protected !!